गुरु अमर दास जन्मोत्सव पर सजा दीवान

गुरु अमर दास जन्मोत्सव पर सजा दीवान

लखनऊ। राजधानी के नाका हिंडोला स्थित ऐतिहासिक गुरूद्वारा में गुरू अमर दास का जन्मोंसव धूमधाम से मनाया गया। बुधवार को हजूरी रागी जत्था भाई राजिन्दर सिंह ने अपनी मधुरवाणी में शबद कीर्तन गायन एवं समूह संगत को नाम सिमरन करवाया। साथ ही ज्ञानी सुखदेव सिंह ने गुरु अमरदास के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि गुरू का जन्म अमृतसर में हुआ,पिता तेजभान व माता सुलखणी थी।

गुरु बनने से पहले कई बार तीर्थाे की यात्रा की, पर मन को शान्ति न मिल सकी। एक बार अपने ही घर में ही गुरु अंगद देव की सपुत्री बीबी अमरो से गुरु की बाणी सुनकर गदगद हो गये तभी से गुरु अंगद देव की सेवा में जुट गये।

प्रतिदिन गुरु कोे स्नान कराते और दिन रात उनकी सेवा मे जुटे रहते थे 72 वर्ष की आयु मे सेवा से प्रभावित होकर गुरु अंगद देव ने गुरु गद्दी सौंप दी और गुरु अमरदास बन गये। वहीं अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह बग्गा ने समूह संगत को गुरु अमरदास महाराज के प्रकाश पर्व की बधाई दी। 

Tags: lucknow

About The Author

Latest News

सराहनीय पहल : डाॅ बीपी त्यागी बनाएंगे रैबीज मुक्त गाजियाबाद सराहनीय पहल : डाॅ बीपी त्यागी बनाएंगे रैबीज मुक्त गाजियाबाद
गाजियाबाद में बुधवार को दोपहर 3:00 बजे अवकेनिंग इंडिया फाउंडेशन और महाराणा प्रताप वीर शिरोमणि ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस रेबीज...
माहे मोहर्रम पर इमाम हुसैन की प्यासी सिद्दत की याद में शर्बत वितरण किया गया
मुहर्रम पर शहर में निकाला गया ताजिया जुलूस
अकीदत व एहतराम के साथ ऐतिहासिक मुहर्रम सम्पन्न
महिला से चेन छिनतई, जांच में जुटी पुलिस
हेमंत सोरेन ने जेल से बाहर आकर चम्पाई सोरेन का पॉलिटिकल मर्डर किया : हिमंत विस्व सरमा
एटीएम में कार्ड फंसा, 96 हजार रुपये की हुई निकासी