रंजिश में श्मशान से शव खोदा और रसोई में लाकर जला दिया

रंजिश में श्मशान से शव खोदा और रसोई में लाकर जला दिया

जैसलमेर। जिले के पोकरण तहसील के भणियाणा थाना क्षेत्र में आपसी रंजिश में एक परिवार से बदला लेने के लिए सिरफिरे युवक ने चालीस दिन पूर्व दफनाए गए एक व्यक्ति के शव को श्मशान से खोद कर बाहर निकाला और रसोई में लाकर जला दिया। वह 15 किलोमीटर दूर से बाइक पर लादकर शव को लाया था। घर के लोग उस वक्त जागरण में गए थे। युवक को भागते हुए पड़ोस में रहने वाले मकान मालिक के छोटे भाई ने देख लिया। उसने अंदर जाकर देखा तो शव के साथ रसोई का सामान जल रहा था। भणियाणा थानाधिकारी देवाराम ने बताया कि दूधली की ढाणी के रहने वाले हेम सिंह पुत्र बगतसिंह के परिवार और आरोपित लक्ष्मणराम (22) पुत्र करनाराम सुथार के बीच पुराना विवाद है। हेम सिंह का कुछ साल पहले निधन हो चुका है। घर में उनकी बेटी और पत्नी रहती हैं। हेम सिंह के तीन बेटे भी हैं जो शेरगढ़ (जोधपुर) में रहकर होटल चलाते हैं। आरोपित जसवंतपुरा (जैमला) पुलिस थाना साकडा का रहने वाला है। आरोपित लक्ष्मणराम चार भाई हैं। सभी लकड़ी का काम करते हैं। आरोपित 17 मई को अंधेरे का फायदा उठा कर हेम सिंह के घर में घुसा और शव लाकर रसोई में जला दिया। घटना के समय हेम सिंह का परिवार घर में नहीं था। पत्नी जागरण में पीहर गई हुई थी। वहीं बेटी पड़ोस में रहने वाले हेम सिंह के भाई धन सिंह के यहां थी। धनसिंह ने ही आरोपित को घर के बाहर से बाइक पर भागते देखा। शक होने पर घर के अंदर जाकर देखा तो गैस टंकी व चूल्हे के पास शव व रसोई में पड़ा जल रहा था। इसके साथ ही रसोई में रखे सामान में भी आग लगी थी। इसके बाद भाई ने मामला दर्ज करवाया।

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार, सरदार सिंह की ढाणी के रहने वाले रेवंताराम पुत्र सोनाराम मेघवाल का चालीस दिन पहले निधन हो गया था। जिनका भणियाणा में श्मशान में शव दफनाया गया था। आरोपित ने रेवंताराम का शव निकालकर हेम सिंह के परिवार को फंसाने के लिए उसके घर ले जाकर जला दिया। ग्रामीणों के अनुसार, यहां मेघवाल समाज में शव को दफनाने की परंपरा है। जानकारी के अनुसार, लक्ष्मणराम ने शुक्रवार रात को भणियाणा के श्मशान से खोदकर शव को निकाला था। इसके बाद रात के अंधरे में बाइक पर ही बॉडी को रखकर 15 किलोमीटर दूर हेम सिंह के घर पहुंचा। 17 मई रात को घर में शव को लेकर घुसा। वहां रसोई में शव को रखकर तेल छिड़कर आग लगा दी। सुबह पांच बजे घटना को अंजाम देकर फरार हो गया था।

 

Tags:

About The Author