फर्जी अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर आंदोलन के चेतावनी

राष्ट्रीय किसान आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बुलाई पत्रकार वार्ता

फर्जी अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर आंदोलन के चेतावनी

अस्पताल संचालको एवं स्वास्थ्य विभाग पर लगाए गंभीर आरोप 50 में रिन्यूवल एक लाख में रजिस्ट्रेशन ढाई लाख में सील खोलने का लगाया आरोप

शामली थानाभवन। जनपद में स्वास्थ्य विभाग में चल रहे फर्जीवाड़े के खेल को लेकर राष्ट्रीय किसान आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद निर्वाल थानाभवन एक प्राइवेट रेस्टोरेंट पर पहुंचे थे। जहां उन्होंने पत्रकार वार्ता में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि थानाभवन में फर्जीवाडे से चल रहे अस्पतालों एवं बिना डिग्री के डॉक्टरों द्वारा ऑपरेशन करने वाले झोलाछापों पर अगर कार्रवाई नहीं हुई तो वह सीएमओ दफ्तर पर अनिश्चितकालीन आंदोलन करते हुए धरना देंगे। शामली जनपद के थानाभवन में दिल्ली सहारनपुर नेशनल हाईवे पर स्थित एक प्राइवेट होटल पर राष्ट्रीय किसान आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद निर्वाल अपने कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे। उन्होंने पत्रकार वार्ता आयोजित की पत्रकार वार्ता में उन्होंने अपनी बात रखते हुए कहा कि वह संगठन के कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए थानाभवन में आए थे।

उन्होंने किसानों के गन्ना भुगतान को लेकर जिला गन्ना अधिकारी एवं अन्य अधिकारियों से वार्ता कर किसानों का भुगतान दिलाए जाने की मांग की है एवं जनपद भर में स्वास्थ विभाग द्वारा खुलेआम किया जा रहे भ्रष्टाचार को लेकर भी गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि जनपद में बिना डिग्री वाले डॉक्टर के द्वारा खुलेआम धड़ल्ले से ऑपरेशन किये जा रहे हैं। कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। मरने वाले लोग भी उनके परिवार के ही सदस्य हैं हमारे भाई बन्धु हैं, लेकिन ऐसे लोगों पर वीडियो वायरल होने के बावजूद भी स्वास्थ्य विभाग कोई कार्रवाई नहीं करता। स्वास्थ्य विभाग अगर किसी मामले में हंगामा होता है तो ज्यादा से ज्यादा अस्पतालों में सील लगा देता है और उनके पास ऐसे साक्ष्य हैं जिसमें सील लगाने एवं सील खोलने को लेकर लाखों रुपया का लेनदेन हुआ है।

उन्होंने थानाभवन में स्थित सिटी लाइफ अस्पताल पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि हाल ही में एक महिला के बच्चे की मौत हुई थी इससे पहले एक बुजुर्ग की मौत हुई हुई थी स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई के नाम पर अस्पताल को सील कर दिया था लेकिन ढाई लाख रूपए लेकर सील को दोबारा खोल दिया गया और मौत के अड्डा चलाने वाले ऐसे झोलाछापों को स्वास्थ्य विभाग ने फिर से खुली छूट दे दी। वहीं उन्होंने थानाभवन में स्थित न्यू गगन अस्पताल संचालकों पर भी गंभीर आरोप लगाए उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में डॉक्टर अबरार एवं फारूक की ऑपरेशन करने की वीडियो भी वायरल हुई थी इससे पहले भी फर्जी बाप बेटे वीडियो में ऑपरेशन करते दिखाई दे रहे थे लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की।

थानाभवन में स्थित मेहरबान अस्पताल को लेकर भी उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि भोले भाले लोगों को भ्रमित करते हुए यह अस्पताल कैंसर के इलाज का दावा करते हैं जबकि दिल्ली जैसे एम्स एवं अन्य कहीं अस्पतालों में भी अभी तक कैंसर का पूरी तरह से इलाज नहीं हो पता है। अस्पताल में मासूम बच्चों का भी इलाज किया जाता है। बच्चो की नर्सरी बनाई गई है। नियम विरुद्ध कार्य किए जाते हैं। वही ऐसे लोग अधिकारियों को भी भ्रमित करते हुए जो इनकी शिकायत करता है उस पर भी आरोप लगाते हैं। थानाभवन में गली-गली में बूचड़खाने मौत बांटने वाले ऐसे कई अस्पताल संचालित हैं। जिनमे गंभीर फर्जीवाड़ा है एवं भोले भाले लोगों को झोलाछाप लोग बोर्ड पर लिखी डिग्रियों के डॉक्टर के नाम पर भ्रमित करते हैं बेवकूफ बनाते हैं।

अगर ऐसे लोगों के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग कार्रवाई नहीं करता है तो वह सीएमओ ऑफिस पर आंदोलन करेंगे और उनका धरना अनिश्चितकालीन चलेगा। उन्होंने कहा कि वह स्वास्थ्य विभाग में चल रहे फर्जीवाड़े को लेकर जल्द ही लखनऊ जाएंगे और स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव से मिलकर पोल पट्टी खोलेंगे। उन्होंने कड़े तेवर में स्वास्थ्य विभाग को चेतावनी दी। वहीं भोले भाले लोगों को भी संदेश दिया कि आजकल ज्यादातर लोग पढ़े लिखे हैं वह ऐसे फर्जी झोलाछाप लोगों के चक्कर में ना पड़कर अच्छी जगह पर अपने लोगों का इलाज कराए। जिससे उन्हें अपने लोगों की जान ना जवानी पड़े। इस अवसर पर छोटा कैडी, अशोक, विनोद, बिलाल अहमद, राव मुबस्सीर, अजीत पूरणमल आदि उपस्थित रहे।

Tags: Shamli

About The Author