बढ़ी गर्मी की तल्खी पारा पहुंचा 45 के पार

राजधानी के तापमान में 1.2 डिग्री की बढ़ोतरी

बढ़ी गर्मी की तल्खी पारा पहुंचा 45 के पार

  • मौसम विभाग ने कई जिलों को किया अलर्ट

लखनऊ। गर्मी की तल्खी तेजी से बढ़ रही है। इसका प्रभाव जनजीवन पर बुरी तरह पड़ रहा है। गर्मी के चलते लू लगने की संभावना बढ़ गई है। प्रदेश में इस सीजन में पहली बार पारा 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार कर गया। कानपुर 45.1 डिग्री के साथ सर्वाधिक गर्म रहा। यहां पर बुधवार 2.3 डिग्री की बढ़ोतरी हुई। लखनऊ में भी तापमन में 1.2 डिग्री की बढ़ोतरी हुई और दिन का तापमान 41.2 की तुलना में 42.4 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। भीषण गर्मी के चलते दोपहर में सड़कों पर सन्नाटा पसर जा रहा है। चिकित्सक भी धूप बाहर न निकलने की सलाह दे रहे है।

विंध्य और बुंदेलखंड क्षेत्र में पारा 43-45 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा। शुक्रवार से लू चलने के आसार जताते हुए मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। साथ ही अगले तीन-चार दिन तक भीषण गर्मी के आसार भी जताए हैं। अधिकतम तापमान में एक से तीन डिग्री की बढ़ोतरी हो सकती है। मौसम विभाग ने 21 मई तक लू को लेकर अलर्ट जारी किया है। आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र लखनऊ के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, पूरवाई थमने और पछुआ हवा चलने के कारण, आकाश साफ रहने से तीखी धूप की वजह से गर्मी का असर दिख रहा है। दिन में तो लोग परेशान हो रही रहे हैं, रात का पारा भी बैचेन किए है। प्रदेश में रात का पारा 28 डिग्री तक पहुंच चुका है।

झांसी में न्यूनतम तापमान सर्वाधिक 28 डिग्री रहा। मेरठ में रात का पारा सबसे कम 20.8 रहा, जबकि ज्यादातर में 24 से 27 डिग्री के बीच बना रहा। अगले दो दिनों के इन जिलों बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, प्रयागराज, फतेहपुर, प्रतापगढ़, कानपुर देहात, कानपुर नगर, मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर और आसपास को एलो अलर्ट किया गया है।

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिम मानसून के अपनी सामान्य तिथि 19 मई को दक्षिणी अंडमान सागर में तथा 31 मई को अपनी सामान्य तिथि एक जून से एक दिन पूर्व केरल में प्रवेश करने की सम्भावना हैे इसके उपरान्त ही मानसून की दोनों शाखाओं की सक्रियता के आधार पर शेष भारत में मानसून की बढ़ोत्तरी का निर्धारण होता हैे उत्तर प्रदेश में मानसून की बंगाल की खाड़ी की शाखा के प्रदेश के उत्तर पूर्वी भाग में गोरखपुर से प्रवेश की सामान्य तिथि 18 जून, राजधानी लखनऊ पहुँचने की सामान्य तिथि 23 जून तथा पूरे प्रदेश को आच्छादित कर लेने की सामान्य तिथि 27 जून हैे मौसम विशेषज्ञ एचआर रंजन के मुताबिक, तीन दिन आगे और तीन दिन पीछे हो सकती है मानसून के आने की तिथि।

Tags: lucknow

About The Author

Latest News

कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत से जीत की मनाई खुशी
कौशाम्बी । जिले के चरवा नगर पंचायत में कांग्रेस पार्टी एवं इंडिया गठबंधन की प्रचंड बहुमत जीत की खुशी में...
सर्वोच्च न्यायालय के गुजारा भत्ता फैसले का मुस्लिम महिलाओं ने किया स्वागत
महिला थाना द्वारा 04 परिवारों के मध्य कराया गया सुलह समझौता
सुदिती ग्लोबल एकेडमी में शिक्षक, शिक्षिकाओं की कार्यशाला
कांवड़ यात्राओं के मद्देनज़र पुलिस -प्रशासन हुआ सजग
आयकर बाध्यताओं को लेकर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
INDIA गठबंधन को मिली प्रचंड जीत देश की जनता की जीत और भाजपा के मुंह पर करारा तमाचा : कांग्रेस