टीम वर्क से नैक में मिलेगी अच्छी ग्रेडिंग

टीम वर्क से नैक में मिलेगी अच्छी ग्रेडिंग

लखनऊ। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय की ओर से संबद्ध संस्थानों को नैक में अच्छी ग्रेडिंग दिलाने के लिए आयोजित तीन दिवसीय ऑनलाइन कार्यशाला के दूसरे दिन मंगलवार को नोएडा जोन के संस्थानों का मार्गदर्शन किया गया। इस मौके पर कुलपति प्रोफेसर जेपी पांडेय पांडेय ने कहा कि सभी संस्थान नैक में बेहतर ग्रेडिंग पा सकें इसके लिए विश्वविद्यालय प्रयासरत है। ऐसे में संस्थानों की हर संभव मदद की जाएगी। संस्थानों को नैक के लिए टीम वर्क के रूप में कार्य करना होगा, तभी बेहतर परिणाम सामने आयेंगे।

उन्होंने बताया कि संबद्ध संस्थानों को नैक मूल्यांकन की विजिट के दौरान पियर रिव्यू टीम से फीडबैक के लिए मैं खुद वर्किंग लंच में ऑनलाइन जुड़ रहा हूं। बतौर विशेषज्ञ एमएमएमयूटी गोरखपुर के प्रो. वीएल गोले ने सातो क्राइटेरिया के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि कॉलेज नैक एक्रिडेशन के पहले ऐसे आईडी बना सकते हैं। अच्छी ग्रेडिंग के लिए हर क्राइटेरिया महत्वपूर्ण है। साथ ही एसएसआर यानि सेल्फ स्टडी रिपोर्ट पर भी गंभीरता से कार्य करने की जरूरत होती है।

इस क्रम में एचबीटीयू कानपुर की प्रो. वंदना कौशिक दीक्षित ने नैक के लिए विशिष्टता और बेस्ट प्रैक्टिसेस पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि नैक में अच्छी ग्रेडिंग पाना कठिन कार्य नहीं है। बस हमें पूरी योजना और टीम के रूप में कार्य करना होता है। इसमें डेटा की अहम भूमिका होती है। साथ ही डेटा की प्रस्तुति किस प्रकार की गयी है इस पर भी ध्यान देना होता है।

Tags: lucknow

About The Author

Latest News