IITs में कैंपस प्लेसमेंट राउंड शुरू, मिल रहे है बीटेक छात्रों को करोड़ों का सालाना पैकेज

IITs में कैंपस प्लेसमेंट राउंड शुरू, मिल रहे है बीटेक छात्रों को करोड़ों का सालाना पैकेज

नई दिल्ली। देश के दिग्गज प्रौद्योगिकी संस्थानों यानी आईआईटी में शैक्षणिक सत्र 2023-24 के लिए शुक्रवार से कैंपस प्लेसमेंट राउंड का धूमधाम से आगाज हो गया। पहले ही दिन आईआईटी में बीटेक छात्रो को डिग्री से पहले ही करोड़ों रुपये के सालाना पैकेज ऑफर मिले हैं। आईआईटी दिल्ली, बॉम्बे, खड़गपुर, रुड़की, गुवाहाटी समेत अन्य आईआईटी में इंटरनेशनल प्लेसमेंट में करोड़ों रुपये के पैकेज ऑफर किए गए हैं। देशी और विदेशी कंपनियों और पैकेज देखकर बीटेक छात्रों के चेहरों पर मुस्कान लौट आयी है।

आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) में करियर सर्विसेज के निदेशक प्रोफेसर आर अथोथिरामन ने बताया कि हमारे पास आने वाले ज्यादातर छात्रों का कैंपस प्लेसमेंट में चयन हो रहा है। कंपनियों को जरूरत के आधार पर छात्रों को उनसे जोड़ दिया जाता है। इस वर्ष कंपनियां वर्चुअल और फिजिकल मोड से कैंपस प्लेसमेंट में भाग ले रही हैं। पहले ही दिन कुछ घंटों में 480 (प्री प्लेसमेंट समेत) छात्रों को फुल टाइम जॉब प्लेसमेंट ऑफर मिला है। इसमें से 25 छात्रों को विभिन्न देशों से अंतरराष्ट्रीय नौकरी यानी इंटरनेशनल प्लेसमेंट पैकेज ऑफर हुआ है। इसमें माइक्रोसॉफ्ट, गोल्डमैन सैक्स और टेक्सास इंस्ट्रूमेंट्स कंपनियां शामिल हैं। इन छात्रों को हांगकांग, जापान, नीदरलैंड, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, यूनाइटेड किंगडम और यूनाइटेड स्टेट्स में काम करने का मौका मिलेगा। कई छात्रों को मल्टीपल यानी एक से अधिक कंपनियों से ऑफर मिला है।

सर्वाधिक 3.7 करोड़ देने वाली company भी पहुंची
आईआईटी (IIT) में सिंतबर में कैंपस प्लेसमेंट सर्वाधिक 3.7 करोड़ रुपये सालाना का पैकेज ऑफर करने वाली जेन स्ट्रीट कैपिटल भी इस बार आईआईटी बॉम्बे पहुंच रही है। प्रबंधन को 15 दिसंबर तक करीब 350 कंपनियों के पहुंचने की उम्मीद है। प्लेसमेंट राउंड में 200 से अधिक प्री प्लेसमेंट ऑफर मिल गए हैं। पहले दिन पीएसयू, एचपीसीएल, सी-डीओटी, ओएनजीसी समेत अन्य कंपनियों ने शिरक्त की।

वहीं, आईआईटी (IIT) गुवाहाटी में पहले दिन 59 कपंनियों ने कुल 164 ऑफर दिए हैं। इसमें से 11 को सालाना एक करोड़ रुपये वेतन पैकेज का प्रस्ताव मिला है। जबकि पिछले साल यानी 2022-23 सत्र में 46 कंपनियों ने 160 प्रस्ताव दिए थे। कैंपस प्लेसमेंट से पहले आईआईटी गुवाहाटी के छात्रों को 214 ‘प्री-प्लेसमेंट’ पेशकश मिल चुके हैं। इस साल नियुक्ति करने वालों में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, बजाज, एचपीसीएल, पीरामल, क्वालकॉम और टेक्सास इंस्ट्रूमेंट्स शामिल हैं। आईआईटी बीएचयू (IIT BHU) में 55 कंपनियों ने 158 छात्रों को ऑफर लेटर दिए हैं। यहां भी इंटरनेशनल पैकेज करोड़ों रुपये सालाना है। आईआईटी बॉम्बे में भी पहले दिन की शुरुआत में छात्रों ने करोड़ो रुपये के ऑफर पाए हैं। इंटरनेशनल पैकेज में सालाना करोड़ों रुपये ऑफर हो रहा है। हालांकि भारत में रहकर भी कुछ कंपनियों ने करोड़ों के आसपास के ऑफर दिए हैं।

पैकेज का नहीं होगा खुलासा
IIT प्रबंधन ने पैकेज की जानकारी अधिकारिक रूप से न देने का फैसला लिया है, बल्कि अब सिर्फ ऑफर की जानकारी दी जाएगी। आईआईटी प्रबंधन का मानना है कि पैकेज के कारण दूसरे छात्रों में निराशा होती है। कुछ इंटरनेशनल कंपनियों के करोड़ों रुपये के सालाना पैकेज के कारण अन्य छात्रों को निराश करना गलत होगा। इसलिए पैकेज की बजाय सिर्फ कुल ऑफर की जानकारी दी जाएगी।

खड़गपुर में 15 international offer
आईआईटी IIT download (12)खड़गपुर के निदेशक प्रोफसर वीके तिवारी ने कहा कि पहले ही दिन 700 प्रस्ताव बेहद अच्छी उपलब्धि है। उधर, करियर डेवलेपमेंट सेंटर के अध्यक्ष प्रोफसर राजीव मैती ने बताया कि पहले दिन 61 कंपनियों की ओर से 700 प्रस्ताव मिले हैं। इसमें से 121 प्रोफाइल इंटरनेशनल पैकेज के लिए ओपन हुए हैं। यहां 15 इंटरनेशनल पैकेज में से छह छात्रों को करोड़ से अधिक सालाना पैकेज भी मिला है।

Tags:

About The Author

Latest News

सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम
अलीगढ़। एआरटीओ प्रवेश कुमार यादव की मिली भगत से हो रहा है। अवैध और चोरी की बाइक और स्कूटर पर...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राज ठाकरे ने कहा ”ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए
UP: सिपाही भर्ती पेपर लीक: जाने कहां से हुई चूक
टेक्नॉलाजी युग के साथ हमको आगे बढ़ना ही होगा : राज्यपाल दत्तात्रेय
वित्त मंत्री सीतारमण ने बिट्स पिलानी के पांचवें परिसर का उद्घाटन किया
लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी मुख्यालय में पांच राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक बुलाई
प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सभी फेलोज को प्रदेश के 100 चयनित पिछड़े नगरीय निकायों में भेजा जाएगा