ताल थाने के सामने युवक ने खुद का गला काटा, मौत

ताल थाने के सामने युवक ने खुद का गला काटा, मौत

रतलाम। जिले के ताल नगर में पुलिस थाने के सामने एक युवक ने शुक्रवार को दिनदहाड़े धारदार वस्तु से अपना गला काट लिया। पुलिस अधिकारी और जवानों ने उसे बचाने का प्रयास किया और उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। युवक ने यह कदम क्यों उठाया, इसका पता नहीं चल पाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। घटना का वीडियो भी सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ताल थाना प्रभारी पृथ्वीराज खल्लाटे ने बताया कि घटना शुक्रवार शाम करीब चार बजे की है। यहां पुलिस थाने से करीब सौ मीटर दूर ढाबे के बाहर लोगों ने सड़क किनारे करीब 35 वर्षीय युवक को किसी धारदार वस्तु से अपना गला काटते और उसके गले से खून निकले देखा तो पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही एसआई मोहम्मद अय्यूब खान, केके सिंह और आरक्षक अमित सिंह तत्काल दौड़कर मौके पर पहुंचे तो युवक अपने गले में अंगुलिया डालकर गला फाड़ रहा था। उसे ऐसा नहीं करने के लिए समझाने का प्रयास किया, लेकिन उस पर कोई असर नहीं हुआ। पुलिस अधिकारियों व अन्य लोगों ने जैसे-जैसे उसे पकड़ा। इसी बीच जवान ने खून रोकने के लिए उसके गले में गमछा लपेट दिया। इसके बाद उसे सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तो़ड़ दिया।

उन्होंने बताया कि मृतक का नाम जोसेफ है और वह असम के डिब्रूगढ़ जिले के नामरूप नगर का रहने वाला है। उसके परिजनों को सूचना दे दी गई है। वे ताल के लिए रवाना हो गए हैं। उनके आने के बाद ही उसके शव को पोस्टमार्टम कराया जाएगा। उसने गला किस वस्तु से काटा, यह पता नहीं चल पाया है। एसआई अय्यूब खान ने बताया कि प्रारंभिक जानकारी में सामने आया है कि जोसेफ मजदूरी करने के लिए साथी व अन्य के साथ डिब्रूगढ़ से मोरवी (गुजरात) जा रहा था। जोसेफ रात में या सुबह किसी समय आलोट स्टेशन पर उतर गया था और ट्रेन चल दी। वह आलोट से जावरा जाने वाली बस में सवार होकर ताल में आकर उतर गया था। इसके बाद उसने कहीं से धारदार वस्तु ली और गला काट लिया। उसके गले काटने का वास्तविक कारण क्या है, यह जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News