भगवान का भजन करने वाला कभी निर्धन नही हो सकता - विश्वामित्र महाराज

भागवत को अपने जीवन में उतारने से होगा उद्धार - महेश शुक्ल

भगवान का भजन करने वाला कभी निर्धन नही हो सकता - विश्वामित्र महाराज

बस्ती - हरैया विकासखण्ड के महादेवरी गांव में चल रही श्रीमद्भागवत कथा का शुक्रवार को समापन हुआ। कथा में पहुँचे भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष महेश शुक्ल को कथा व्यास तथा आयोजन समिति के सदस्यों द्वारा अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया गया। महेश शुक्ल ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा को मात्र सुनने से नहीं बल्कि अपने जीवन में उतारने से उद्धार होगा। उन्होंने कहा कि आज के समय में भी कथा सुनने का पुण्य राजा परीक्षित जितना ही है बशर्ते कथा सुनने व सुनाने वाले की मनःस्थिति भी राजा परीक्षित और मुनि शुकदेव जैसी ही हो। कृष्ण सुदामा मित्रता की कथा का विस्तार से वर्णन करते हुए कथा व्यास विश्वामित्र ने कहा कि भगवान का भजन करने वाला, जाप करने वाला कभी निर्धन नहीं हो सकता, सुदामा तो भगवान के मित्र थे, यदि संत नहीं बन सकते तो संतोषी बन जाओ। संतोष सबसे बड़ा धन है। सुदामा की मित्रता भगवान के साथ निरूस्वार्थ थी। उन्होंने कभी उनसे सुख, साधन या आर्थिक लाभ प्राप्त करने की कामना नहीं की, लेकिन सुदामा की पत्नी द्वारा पोटली में भेजे गए चावलों में भगवान श्रीकृष्ण से सारी हकीकत कह दी और प्रभु ने बिन मांगे ही सुदामा को सब कुछ प्रदान कर दिया। इस अवसर पर गिरीश पाण्डेय, प्रेम शंकर ओझा, राममोहन शुक्ल, विनोद शुक्ल, सुधीर शुक्ल, दुखहरन शुक्ल, मंटू पाण्डेय, शिवाकांत पाण्डेय, संतोष कुमार शुक्ल, रवीश मिश्र, शुभम शुक्ल, शिव शंकर शुक्ल सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

10

Tags:

About The Author

Sarvesh Srivastava Picture

सर्वेष श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद के ब्यूरो प्रमुख

Latest News

रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित
रांची। रिम्स के क्षेत्रीय नेत्र संस्थान में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल एवं वेट लैब स्थापित किया गया है। रिम्स...
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन चार मार्च को जाएंगे गिरिडीह
मतदान के प्रति जागरूक करना हमारी नैतिक जिम्मेवारी: निदेशक
सीआईडी ने दो साइबर अपराधी को किया गिरफ्तार
जबलपुर इंजीनियरिंग कालेज को "टेक्नोलॉजी हब" बनाने की दिशा में हो क्रियान्वयन: मंत्री परमार
मंत्री कृष्णा गौर ने की गुफा मंदिर में महाशिवरात्रि आयोजन की तैयारियों की समीक्षा
अपने लोगों पर गर्व करने की परंपरा करनी होगी विकसित: उच्च शिक्षा मंत्री परमार