अव्यवस्था के बीच अपनी ही जमनी पर खानाबदोश की तरह रहने को मजबूर दलित परिवार

 अव्यवस्था के बीच अपनी ही जमनी पर खानाबदोश की तरह रहने को मजबूर दलित परिवार

30dl_m_429_30112023_1। नवादा जिले के रजौली प्रखंड क्षेत्र के हरदिया में अतिक्रमण का हवाला देकर एक वर्ष पूर्व दर्जनों दलित और महादलित परिवार के घरों पर बुलडोजर चलाकर उनके सपनों के आशियाना को जमींदोज कर दिया।

अतिक्रमण का शिकार हुए सभी ग्रामीणों में अधिकांश दलित और महादलित परिवार शामिल हैं। ऐसे में इन गरीब दलित और महादलित परिवार के झुग्गी झोपड़ियों के नष्ट होने के बाद रात गुजारने के लिए कोई ठिकाना नही बचा है।जिससे छोटे बच्चे और बुजुर्गों ठंड में रहने को मजबूर है। संवेदनहीनता का आलम यह है कि जिनके कंधों पर इनके दुःख दर्द बांटने की जिम्मेवारी है उन जनप्रतिनिधियों ने भी इनसे अपना मुंह मोड़ लिया है और इन सब से दूरी बना लिया है।

अतिक्रमण के शिकार पीड़ित परिवारों ने बताया कि हमलोग आज से ठीक 35 से 40 वर्ष पहले सिंगर,भीतियाही,और मरमो से विस्थापित हुए थे और जमीन का सीमांकन ना होने के कारण हमलोगों का जमीन कहां आवंटन हुआ है। इसकी जानकारी सिंचाई विभाग के द्वारा नही दी गई है। तब से आजतक हमलोग यही झुग्गी झोपड़ी बनाकर रह रहे थे।हमलोगों की स्थिति इतनी खराब है कि दो वक्त की रोटी का जुगाड़ नही पाता है ऐसे स्थिति में घर कहां से बना पायेंगे।

Tags:

About The Author

Latest News

पेट्रोल-डीजल की कीमत स्थिर, कच्चा तेल 84 डॉलर प्रति बैरल के करीब पेट्रोल-डीजल की कीमत स्थिर, कच्चा तेल 84 डॉलर प्रति बैरल के करीब
नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में उतार-चढ़ाव जारी है। ब्रेंट क्रूड का मूल्य उछलकर 84 डॉलर...
शेयर बाजार में जश्न का महौल, सेंसेक्स-निफ्टी ने फिर बनाया रिकार्ड
घाना के उपराष्ट्रपति ने 13वें अफ़्रीकी खेलों के मुख्य आयोजन स्थल का किया उद्घाटन
विश्व एथलेटिक्स इंडोर चैंपियनशिप: क्रिश्चियन कोलमैन ने 60 मीटर रेस का खिताब जीता
आयरलैंड के खिलाफ एकदिनी श्रृंखला के लिए अनकैप्ड गजनफर, खारोटे अफगानी टीम में शामिल
मुंबई सिटी के सामने बेहतर प्रदर्शन करना चाहेगी पंजाब एफसी की टीम
पुनेरी पलटन ने जीता पीकेएल 10 का खिताब, सर्वश्रेष्ठ रेडर चुने गए आशु मलिक