जीवन कौशल प्रशिक्षण से बढ़ती है सृजनात्मकता-डॉ ऋचा शुक्ल

जीवन कौशल प्रशिक्षण से बढ़ती है सृजनात्मकता-डॉ ऋचा शुक्ल

बस्ती - जीवन कौशल प्रशिक्षण से बढ़ती है सृजनात्मकता, बच्चों को सिखाने में काम आता है प्रशिक्षण यह विचार डॉ ऋचा शुक्ला ने व्यक्त किया वह जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान बस्ती में चल रहे पांच दिवसीय जीवन कौशल प्रशिक्षण शिविर में दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत कर रही थीं बताया कि प्राचार्य  संजय शुक्ल  के निर्देशन में प्रशिक्षण के माध्यम से विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा चिन्हित 10  जीवन कौशलों के विकास के विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का समावेश किया जा रहा है, प्रशिक्षण नोडल डॉ रवि नाथ एवं डॉ ऋचा शुक्ला ने, डब्ल्यूएचओ द्वारा जीवन कौशल को अनुकूली और सकारात्मक बनाता है विषय पर प्रकाश डाला, इसके 10 मुख्य कौशल स्व-जागरूकता, समानुभूति, सृजनात्मकता, निर्णय लेना, समस्या समाधान, प्रभावी सम्प्रेषण, पारस्परिक संबंध, तनाव प्रबंधन, समालोचनात्मक चिंतन और भावना प्रबंधन सम्मिलित पर चर्चा हुई, सन्दर्भदाता के रूप में अजित सिंह, संघमित्रा, प्रताप कुमार , राम गोपाल पाठक, डायट प्रवक्ता वंदना चौधरी, वर्षा पटेल, कल्याण पांडेय का योगदान रहा, 15 विकासखंड से 150 प्रतिभागी में कुलदीप सिंह, अमरेंद्र कुमार सिंह, श्रीधर पाल, पंकजा नंद, दिव्या श्रीवास्तव ने अपने विचार व्यक्त किये।

1

Tags:

About The Author

Sarvesh Srivastava Picture

सर्वेष श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश के बस्ती जनपद के ब्यूरो प्रमुख

Latest News

ऐप के रूप में डाउनलोड कर सकेंगे विक्रमादित्य वैदिक घड़ी ऐप के रूप में डाउनलोड कर सकेंगे विक्रमादित्य वैदिक घड़ी
उज्जैन। उज्जैन में जीवाजी वैधशाला परिसर में नवस्थापित विक्रमादित्य वैदिक घड़ी को देखने बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे है।...
अबू धाबी में कृषि और मत्स्य पालन पर सहमति के बिना डब्ल्यूटीओ वार्ता समाप्त
उज्जैन: ऐप के रूप में डाउनलोड कर सकेंगे विक्रमादित्य वैदिक घड़ी
राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा आज मुरैना जिले से करेगी मप्र में प्रवेश
झारखंड विधानसभा में सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा
जिला अस्पताल परिसर में सरकारी दवाएं कूड़े के ढेर पर पड़ी मिली
बागेश्वर धाम में 108 कुंडीय अति विष्णु महायज्ञ शुरू