पत्रकारगणो द्वारा शोक सभा आयोजित कर साथी को दी भावभीनी श्रद्धांजलि

पत्रकारगणो द्वारा शोक सभा आयोजित कर साथी को दी भावभीनी श्रद्धांजलि

सुल्तानपुर। लगभग दो दशक से पत्रकारिता कर रहे वरिष्ठ पत्रकार राम सुमिरन मिश्र के असामयिक निधन पर जिले के पत्रकारों ने प्रेस क्लब में शोक सभा कर उन्हे भावभीनी श्रद्धांजलि दी।बीते शनिवार को तबियत बिगड़ने पर परिजनों ने उन्हे जिला अस्पताल में भर्ती करवाया।जहां पर हालत खराब होते देख चिकित्सकों ने उन्हे ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रिफर कर दिया।परिजन उन्हे लखनऊ के लिए ले जाने की तैयारी कर ही रहे थे कि जिला अस्पताल के गेट पर उन्होंने अंतिम सांसें लीं।साथी पत्रकार के निधन की खबर मिलते ही पत्रकारों में शोक की लहर व्याप्त हो गई।सोमवार को जनपद के पत्रकारों ने नगर के प्रेस क्लब में एक शोक सभा आयोजित कर उन्हे भावभीनी श्रद्धांजली अर्पित की।
 
पत्रकार ऐशोसिएशन के अध्यक्ष डा0अवधेश शुक्ला ने उन्हे कलम का सच्चा सिपाही बताया। अनिल द्विवेदी ने कार्यक्रम में मौजूद सभी पत्रकारों से इस दुख की घड़ी में उनके परिवार के साथ मजबूती से खड़े रहने की अपील की। दर्शन साहू व दिनेश श्रीवास्तव  ने राम सुमिरन मिश्रा के बारे में विस्तार से चर्चा की।शोक सभा में  अनुराग द्विवेदी,वरिष्ठ पत्रकार हाशिम अब्दुल्ला, दीपक मिश्रा ,श्रीप्रकाश पांडेय,राजदेव शुक्ला बेनू,  आशुतोष मिश्र,जे पी तिवारी ,के के गुप्ता, नवीन शर्मा, रामानंद शर्मा,रवी दूबे,लाल जी, आदि  पत्रकारों ने दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।
Tags: Sultanpur

About The Author

Latest News

सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम सरकार की छवि धूमिल होते देख करणी सैनिकों ने एआरटीओ को दिया अल्टीमेटम
अलीगढ़। एआरटीओ प्रवेश कुमार यादव की मिली भगत से हो रहा है। अवैध और चोरी की बाइक और स्कूटर पर...
इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राज ठाकरे ने कहा ”ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए
UP: सिपाही भर्ती पेपर लीक: जाने कहां से हुई चूक
टेक्नॉलाजी युग के साथ हमको आगे बढ़ना ही होगा : राज्यपाल दत्तात्रेय
वित्त मंत्री सीतारमण ने बिट्स पिलानी के पांचवें परिसर का उद्घाटन किया
लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी मुख्यालय में पांच राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक बुलाई
प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद सभी फेलोज को प्रदेश के 100 चयनित पिछड़े नगरीय निकायों में भेजा जाएगा