अंबेडकरनगर में निरुद्ध बंदियों के साथ संवाद

अंबेडकरनगर में निरुद्ध बंदियों के साथ संवाद

अंबेडकर नगर।  उत्तर प्रदेश के कारागार एवं होमगार्ड्स राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  धर्मवीर प्रजापति ने  जिला जेल अंबेडकरनगर में निरुद्ध बंदियों के साथ संवाद किया। संवाद के दौरान उन्होंने कहा कि आपकी एक गलती की वजह से बाहर आपके परिवार को कौन-कौन सी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है,इसका आप लोगों को अंदाजा है क्या। कोई भी परिवार आपकी बहन या बेटी को शादी के लिए स्वीकार नहीं करता। बच्चों की पढ़ाई- लिखाई से लेकर शादी - विवाह तक समस्या बन जाती है।
 
उन्होंने बंदियों से अपील की कि आगे से ऐसी कोई गलती ना करें जिससे आपको दोबारा जेल में आना पड़े।कारागार मंत्री ने कहा कि जेल में रहते हुए आप स्वयं को कौशल विकास से जोड़ सकते हैं। कोई हुनर सीख सकते हैं। जिससे कि बाहर जाकर आप कोई छोटा-मोटा रोजगार कर सके और अपने परिवार का सहारा बन सके। साथ ही उन्होंने कहा कि आप अपनी बैरकों में रामायण पाठ हनुमान चालीसा या अपने-अपने हिसाब से कोई भी धार्मिक ग्रंथ का पाठन करें।
 
इससे आपकी सोच में सकारात्मक आयेगी और नेगेटिव बातों से आप दूर रहेंगे। उन्होंने कहा कि आप एक अच्छा नागरिक बनकर जेलों से बाहर जाएं और प्रयास करें कि दोबारा ऐसी कोई गलती ना हो जिससे कि आपको दोबारा जेल में आना पड़े। बंदियों ने मंत्री जी की बातों से सहमति जताते हुए आश्वासन दिया की एक अच्छा नागरिक बनकर ही वो जेलों से बाहर निकलेंगे और दोबारा ऐसी कोई गलती नही करेंगे जिससे की उन्हें दोबारा जेल में आना पड़े।संवाद के दौरान एसडीएम (सदर)  पवन जायसवाल सीओ सिटी  सुरेश मिश्रा कारापाल  गिरिराज शंकर यादव उपस्थित रहे।
 
 
 

About The Author

Latest News