जैविक खाद से बढ़ती है खेतों की उर्वरा क्षमता : डा. डी. के. शर्मा

जैविक खाद से बढ़ती है खेतों की उर्वरा क्षमता : डा. डी. के. शर्मा

वाराणसी। रासायनिक खाद खेतों को कमजोर कर रहा है। इससे बचाव जरूरी है, वरना एक समय ऐसा आएगा, जब खेत मृत प्राय हो जाएंगे और कोई खाद उसमें काम नहीं आएगी। इसके लिए जैविक खाद की ओर आगे बढ़ना होगा। ये बातें बायोफिल संस्थान के सीईओ डी.के. शर्मा ने कही। वे राजा तालाब स्थित टोडरपुर में जैविक कृषि डिपो के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे।उन्होंने कहा कि जैविक खेती से मिट्टी की शक्ति बढ़ती है। इसको इस तरह से भी समझा जा सकता है कि एंटी बायोटिक दवाएं मानव के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देती है। वैसे ही रासायनिक खाद मिट्टी की क्षमता को कम करती जा रही है। एक दिन वह उसे मृत प्राय बना देगी। इस दौरान संस्था के डीएसएम विनोद चौबे ने कहा कि हर किसान को जैविक खादों का प्रयोग करना जरूरी है। इसके प्रयोग से ही हम खेतों की क्षमता को बढ़ा सकते हैं। इस दौरान डिपो धारक आलोक सिंह, टीएसएम जीतेंद्र शर्मा घनश्याम शर्मा आदि मौजूद रहे।

Tags: Varanasi

About The Author

Latest News

चारधाम यात्रा के दौरान अब तक 52 तीर्थयात्रियों की मौत चारधाम यात्रा के दौरान अब तक 52 तीर्थयात्रियों की मौत
देहरादून। चारधाम यात्रा के दौरान अब तक कुल 52 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से सबसे अधिक 23...
आजम खान परिवार को हाईकोर्ट से मिली राहत- सात साल की सजा पर लगी रोक
ए0टी0एल0 ग्राउण्ड से मतदान हेतु सभी पोलिंग पार्टियॉ रवाना हुई 
जिलाधिकारी ने जनपद के सभी मतदाताओं से शत प्रतिशत मतदान करने की अपील की
नदी में उतराता मिला युवती का शव,नहीं हो पाई शिनाख्त
लिटिल फ्लावर कान्वेंट स्कूल के समर कैम्प के साथ स्काउट गाइड कार्यक्रम का हुआ समापन
महोबा:जिला निर्वाचन अधिकारी ने लिया स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा