छात्र समेत पांच लोगों ने फांसी लगाकर दी जान

लविवि में तैनात लाइब्रेरी कर्मचारी ने लगाई फांसी

छात्र समेत पांच लोगों ने फांसी लगाकर दी जान

  • पारा में डेयरी संचालक व कबाड़ी,अमीनाबाद में युवती ने की खुदकुशी
  • पुलिस ने पांच शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा
लखनऊ। राजधानी में इन दिनों फांसी लगाने वालो की जैसे बाढ़ सी आ गयी है। जरा से बात से नाराज होकर मौत को गले लगा ले रहे है। गुरूवार को कुछ ऐसा ही देखने को मिला। छात्र समेत पांच लोगों ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला को समाप्त कर लिया। छात्र ने बोर्ड के परीक्षा के तनाव में आकर खुदकुशी कर ली। इसके अलावा गोमतीनगर इलाके में लविवि कर्मचारी, पारा में डेयरी संचालक, कबाड़ी और अमीनाबाद इलाके में एक युवती ने फांसी लगाकर जान दे दी। पहला मामला थाना  ठाकुरगंज क्षेत्र से सामने आया है, जहां  एक  हाईस्कूल के युवक द्वारा आत्महत्या किए जाने का मामला सामने आया है। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
 
थाना पुलिस के अनुसार मृतक हिमांशु गौतम (18)पुत्र  राजेन्द्र पुत्र अशोक नगर शिवाजी पुरम थाना ठाकुरगंज लखनऊ का निवासी था। बीते दिन बुधवार चौदह फरवरी को उनके पुत्र ने दिन के समय अपने कमरे को अंदर से बंद करके कमरे की छत में लगे पंखे के कुण्डे से दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी लगाकर थी। युवक हाई स्कूल का छात्र था। पुलिस ने परिजनों की सूचना पाकर मौके पर पहुंची और युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पिता राजेंद्र ने बताया कि 22 फरवरी से हिमांशु के बोर्ड की परीक्षा होनी थी। ऐसी आशंका है कि परीक्षा के तनाव में उसने आत्महत्या कर ली। दूसरा मामला गोमतीनगर थाना क्षेत्र से सामने आया है,जहां एक व्यक्ति द्वारा फंदे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गई। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया।
 
पुलिस के अनुसार मृतक अरविन्द सिंह ई-2/381, विनयखंड थाना गोमतीनगर का निवासी था। गुरुवार सुबह मनीष कुमार सिंह पुत्र प्रभू सिंह, ने पुलिस को सूचना दी की उनके बड़े भाई जो की मकान के तीसरे मंजिल पर रहते थे। उन्होंने किचन में लगे पंखे के कुंडे से बिजली के तार का फंदा बनाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है।सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले को जांच में जुट गई है। परिवार में  मृतक के दो पुत्र है और वह लखनऊ यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी में बाबू के पद पर तैनात थे। तीसरा मामला थाना पारा क्षेत्र  से सामने आया है, जहां  एक युवक द्वारा देवपुर गांव में फन्दे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गई।
 
मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस  के अनुसार मृतक एकदृदुस अली (26 ) चरग पारा थाना बरपेटा जनपद बरपेटा, असम हालपता-झुग्गी झोपड़ी देवपुर थाना का निवासी था। भाई मुमरेज मैनुलहक ने थाना पारा पर सूचना दिया कि गुरुवार सुबह उसके भाई एकदृदुस अली ने झोपड़ीमें   लगे बांस की बल्ली में चादर का फंदा बनाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर की है। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
 
परिजनों के अनुसार मृतक के एक  पुत्र व एक  पुत्री है  और वह अपने अपने भाई के साथ कबाड़ी का काम करता था। वही पारा के डिप्टी खेडा से एक और आत्महत्या करने का मामला सामने आया है, जहां एक युवक द्वारा एक आम के पेड़ में फंदे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गई। पुलिस के अनुसार बीती रात्रि मृतक जितेन्द्र यादव (30) ने आत्महत्या कर ली। मृतक के भाई संदीप सिंह यादव पूुत्र गया प्रसाद ने पुलिस को सूचना दी थी की उसके छोटे भाई जितेन्द्र यादव ने घर कुछ  दूरी पर आम के बाग मे आम के पेड़ की डाल से रस्सी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को अवध अस्पताल पहुँचाया जहाँ डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया और पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
 
मृतक के एक  पुत्र व एक  पुत्री है। मृतक डिप्टीखेड़ा में डेयरी की दुकान चलाता था। इंस्पेक्टर बृजेश वर्मा के अनुसार आत्महत्या के पीछे पारिवारिक कलह की वजह बताई गई है।  चौथा मामला  अमीनाबाद क्षेत्र से सामने आया है, जहां एक युवक द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज  दिया और मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस के अनुसार मृतका  मंजू गौतम (22)पुत्री शंकर लाल गौतम निवासी-मौलवीगंज थाना अमीनाबाद की निवासी थी।
 
गुरुवार को पुलिस को सूचना मिली की बलरामपुर अस्पताल में एक युवती को मृत अवस्था में लाया गया है मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंची। पुलिस को उसके परिजनों ने बताया गया कि मंजू गौतम ने अपने निवास भेड़ीमण्डी चमरटोलिया में बुधवार रात्रि  कमरे के छत में लगे पंखे से चद्दर का फंदा बनाकर फांसी लगा लिया। परिजनों द्वारा उतार कर इलाज के लिए बलराम पुर हॉस्पिटल ले जाया गया जहां पर डाक्टरों ने मंजू गौतम को मृत घोषित कर दिया। मृतका लेखराज पर एक प्राइवेट नौकरी करती थी  और अविवाहित थी।
Tags: lucknow

About The Author

Latest News

सुरंग में दीवारों पर सीलन सुरंग में दीवारों पर सीलन
मुंबई:मुंबई की महत्‍वाकांक्षी कोस्‍टल रोड सुरंग  को लेकर सरकार की किरकिरी हो रही है. उद्घाटन के तीन महीने भी नहीं...
माधुरी दीक्षित के जीवन के कुछ पहलू 
आज का राशिफल 29 मई 2024 : बड़ा निर्णय न लें ये राशि वाले
यकीन मानिये जो लोग आपकी झूठी वाही-वाही करेंगे वही लोग एक दिन आपके पतन का कारण बनेंगे : अजय गुप्ता
वाह रे सरकारी अमले तेरे खेल निराले और सरकार कहे हम गरीबों के रखवाले : डाॅ. बीपी त्यागी
कितने भी वैभवशाली हो जाओ मृत्यु को अवश्य प्राप्त करोगे
डीएम व एसपी ने मतगणना की सभी आवश्यक तैयारी को लेकर स्ट्रांग रूम मंडी समिति शिकोहाबाद का किया निरीक्षण।