नोयडा दिल्ली एक्सप्रेसवे पर बस -कार की टक्कर में जलकर मरने वालों के परिवार को सहायता हेतु विधायक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा

नोयडा दिल्ली एक्सप्रेसवे पर बस -कार की टक्कर में जलकर मरने वालों के परिवार को सहायता हेतु विधायक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा


फिरोजाबाद। नोयडा दिल्ली एक्सप्रेस वे पर जनपद मथुरा के महावन इलाके में हुई इस ह्रदय विदारक घटना ने आम जनमानस के साथ- साथ परिवारीजनों को हिला दिया है। इन युवकों के परिवार में मातम पसरा हुआ है, इन्ही सब बातों को देखते हुए नगर विधायक मनीष असीजा ने  इन मृतको के पीड़ित परिजनों को  आर्थिक मदद दिलाये जाने के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व जनपद के जिलाधिकारी डॉ उज्ज्वल कुमार को पत्र लिखा है। विधायक ने अपने द्वारा लिखे गये पत्र में सभी मृतकों की आर्थिक स्थिति खराब होने का जिक्र किया है।
मनीष असीजा ने बताते हुए लिखा है की 12 फरवरी 2024 को नोयडा दिल्ली -एक्सप्रेस वे पर मथुरा जनपद के महावन थाना क्षेत्र में प्राइवेट बोल्वो बस व कार की टक्कर होने के बाद दोनों में आग लग गयी थी। जिसमे फ़िरोज़ाबाद जनपद के  रहने वाले 05 युवकों की जलकर दर्दनाक मौत हो गयी थी। 
जिसमे शिकोहाबाद थाना क्षेत्र के शम्भू नगर निवासी अंशुमान यादव जो कि अपने परिवार के इकलौते पुत्र थे, और अपने परिवार की जीविका चलाने के लिये एकमात्र साधन थे, और उनकी मौत के बाद परिवार में कोई भरण- पोषण करने वाला नही है।
वही शिव किशन रावत जो कि फ़िरोज़ाबाद के सुहाग नगर  थाना दक्षिण इलाके के रहने वाले  थे,  वह परिवार में सबसे छोटे थे,  और दिल्ली में एक प्राइवेट कम्पनी में सर्विस करते थे। उनके परिवार की भी उनकी मृत्यु के बाद उनके परिवार की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गयी है। शिकोहाबाद हिमांशु उर्फ अतिन यादव जो नोयडा में जियो कम्पनी में इंजीनियर के पद पर कार्यरत थे,इनकी अभी हाल में ही शादी होनी थी, वही जैद खान जो थाना दक्षिण क्षेत्र के मुश्ताक बिल्डिंग के समीप के रहने वाले थे, उनके पिता की मृत्यु पूर्व में हो चुकी थी।  और जैद अपने परिवार के मुख्य संचालक थे, जिससे उनकी मौत के कारण परिवार में काफी दुख व्याप्त है। और परिवार के भरण पोषण हेतु आय का कोई साधन नही है। इसी तरह सरवर हुसेन निवासी बाजे वाली गली थाना दक्षिण वह भी दिल्ली में पिछले तीन वर्ष से एक प्राइवेट कम्पनी में कार्य करते थे। उनकी  हाल ही में शादी तय हुई थी ,उनके परिवार में भी उनकी मौत के कारण रोजी रोटी का संकट  खड़ा हो गया है।
ये सभी लोग राइड शेयर एप से कैब करके दिल्ली - नोयडा जा रहे थे। अतः सभी  मृतको के परिवारों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री  आर्थिक सहायता कोष से उनके परिवार को 5-5 लाख रुपये दिलाये जाने का कष्ट करे।

Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News