पशु आहार के बीच छिपाकर ले जा रहे थे 35 लाख का गांजा

पश्चिमी बंगाल से ट्रक में भरकर ला रहे थे गांजा

पशु आहार के बीच छिपाकर ले जा रहे थे 35 लाख का गांजा

  • एसटीएफ को दो तस्कर को गिरफ्तार कर ट्रक व मोबाइल किया बरामद
  • बंगाल से मिर्जापुर तक पहुंचाने के लिए मिलता था पचास हजार
लखनऊ। यूपी एसटीएफ को अन्तर्राज्यीय स्तर पर मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह के दो शातिर अपराधियों को गिरफ्तार कर लगभग 186 किलोग्राम गांजा जिसकी अनुमानित मूल्य लगभग 35 लाख रुपए बरामद करने में सफलता मिली है। अभियुक्त का नाम शरीफ खान पुत्र मो शमीम खान निवासी डिप्टीगंज की कचहरी तहसील स्कूल मुरादाबाद, नंद किशोर पुत्र सफाई लाल निवासी रैतीपुर, थाना औरैया, जनपद औरैया है। इनके कब्जे से मादक पदार्थ के अलावा एक ट्रक व दो मोबाइल बरामद  किया है।

एसटीएफ को विगत काफी दिनों से पूर्वांचल के विभिन्न जनपदों में मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले अपराधियों, तस्करों के सक्रिय होने की सूचनायें प्राप्त हो रही थी। इसी क्रम में एसटीएफ फील्ड इकाई वाराणसी के निरीक्षक अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में गठित एक टीम द्वारा इनके बारे में जानकारी एकत्र की जा रही थी कि। इसी दौरान टीम को सूचना मिली कि एक ट्रक में भारी मात्रा में गॉंजा सिलीगुडी (पं.बंगाल) से जनपद वाराणसी होते हुये मिजार्पुर भेजा जा रहा है।
 
यदि शीघ्रता की जाये तो पकड़ा जा सकता है। इस सूचना पर विश्वास करते हुए एसटीएफ फील्ड इकाई वाराणसी की टीम द्वारा नॉरकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो के अधिकारियों से सम्पर्क कर इन्हें साथ लेकर मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान पर पहुंचकर  वाराणसी के थाना मिजार्मुराद क्षेत्रान्तर्गत जीटी रोड स्थित विधान पेट्रोल पम्प ग्रामसभा रूपापुर के पास से उपरोक्त अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उपरोक्तानुसार बरामदगी की गयी।
 
गिरफ्तार अभियुक्तों से पूछताछ से पाया गया कि सिलीगुडी (प.बंगाल) में उक्त तस्करों ने ट्रक में लोड कर पशु आहार के बीच में उपरोक्त लगभग 186 किलोग्राम गांजा को छुपा कर रख लिया था। इस गांजा को विनय तिवारी निवासी मटियारी ,थाना चिल्ह, जनपद मिजार्पुर को देना था।
 
 
विनय तिवारी उपरोक्त पूवार्चंल का कुख्यात गांजा तस्कर है। यह ट्रक जनपद औरैया के रोहित कुमार का है। इस गांजा को मटियारी जनपद मिजार्पुर तक पहुंचाने के लिये उसको 50 हजार रूपया मिलना तय हुआ था परन्तु रास्ते में ही पुलिस द्वारा पकड लिया गया। गिरफ्तार उपरोक्त अभियुक्त के विरूद्ध नारकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो लखनऊ द्वारा एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत कर अग्रिम आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। 
Tags: lucknow

About The Author

Latest News