अवैध सम्बन्धों में युवक की हत्या पर दम्पति को उम्रकैद

जिला जज ने सुनाया फैसला 

अवैध सम्बन्धों में युवक की हत्या पर दम्पति को उम्रकैद

चित्रकूट। अवैध सम्बन्धों के चलते युवक की हत्या कर शव को खेत में फेंकने के मामले में आरोपी के दोष सिद्ध होने पर सत्र न्यायाधीश ने हत्यारोपी पति-पत्नी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। 15-15 हजार रुपये के जुर्माना से भी दंडित किया।गुरुवार को जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी श्यामसुन्दर मिश्रा ने बताया कि 15 जनवरी 2018 को मानिकपुर थाने के लक्ष्मणपुर, कल्याणपुर गांव के दयाशंकर पाण्डेय ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसका 23 वर्षीय बेटा दीपू पाण्डेय 12 जनवरी 2018 को रात्रि में नौ बजे खाना खाकर घर में सो गया था। सवेरे वह नलकूप से घर आया तो पता चला कि दीपू पाण्डेय लापता है। सभी लोगों ने आसपास पता लगाया, कोई पता नहीं चला।

तीन दिन बाद 15 जनवरी 2018 को सवेरे साढे नौ बजे उसके पुत्र की हत्या कर शव लालभाई मिश्रा के सरसों के खेत में फेंका गया है। मौके पर देखा तो कुल्हाडी मारकर बेटे की हत्या की गयी थी। मृतक के पिता ने गांव के ही राजाभइया उर्फ बोग्गा, उसकी पत्नी ममता समेत आधा दर्जन लोगों पर मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी राजा भइया व पत्नी ममता को जेल भेजा था। पूंछताछ में अवैध सम्बन्धों के चलते दीपू पाण्डेय की हत्या का खुलासा हुआ। पुलिस ने हत्यारोपी दम्पति के खिलाफ न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया था। बचाव व अभियोजन पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीले सुनने के बाद गुरूवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश विकास कुमार प्रथम ने दोष सिद्ध होने पर हत्यारोपी राजा भइया व पत्नी को आजीवन करावास की सजा सुनाई। हत्यारोपियों को 15-15 हजार रुपये के जुर्माना से दंडित किया। 

About The Author

Latest News