जंगलों में लगाने वाली आग की घटनाओं को लेकर मुस्तैदी

योगी सरकार की मॉनीटरिंग से ऐसी घटनाओं में तीन साल में आई भारी कमी

जंगलों में लगाने वाली आग की घटनाओं को लेकर मुस्तैदी

सात फरवरी तक वन अग्नि सुरक्षा सप्ताह का आयोजन कर आमजन में भी लाई जा रही जागरूकता

लखनऊ। गर्मी में वनों व जंगलों में आग की बढ़ने वाली घटनाएं न हों, इसके लिए योगी सरकार ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। एक तरफ पहली से सात फरवरी तक वन अग्नि सुरक्षा सप्ताह चलाकर प्रदेश के हर जनपदों में जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है तो वहीं योगी सरकार ने इस पर अंकुश लगाने के लिए निचले स्तर से लेकर उच्च स्तर तक एक और पहल भी की है। घटनाओं की निगरानी के लिए प्रधान मुख्य वन संरक्षक व विभागाध्यक्ष, लखनऊ के कार्यालय में अग्नि नियंत्रण सेल की स्थापना की गई है। प्रदेश मुख्यालय पर बनाए गए सेल के नोडल अधिकारी मुख्य वन संरक्षक, प्रचार-प्रसार होंगे, जो अधीनस्थ कार्यालयों से मिली आग से होने वाली दुर्घटनाओं की जानकारी प्रति सप्ताह शासन को देंगे। आंकड़ों पर ध्यान दें तो योगी सरकार की मॉनीटरिंग से ऐसी घटनाओं में तीन साल में काफी कमी दर्ज की गई है।

सात फरवरी तक वन अग्नि सुरक्षा सप्ताह मना रही सरकार:-
वनों को आग से सुरक्षित रखने के लिए योगी सरकार उत्तर प्रदेश में वन अग्नि सुरक्षा सप्ताह मना रही है। कभी-कभी इस आग से जानमाल की बड़ी हानि हो जाती है। इस पर अंकुश लगाया जा सके और वनों की सुरक्षा के प्रति जनसाधारण को भी जागरूक किया जा सके। इसके लिए सात फरवरी तक चलने वाले आयोजन में सभी प्रभागों में जनजागरूकता अभियान, रैली, पोस्टर, पेंटिंग प्रतियोगिता भी होगी, जिससे अधिक से अधिक लोग जागरूक हों और आग लगने की घटनाओं में कमी दर्ज की जाए।

प्रभागीय व वन संरक्षक के कार्यालय में भी स्थापित हुए नियंत्रण कक्ष:-
योगी सरकार की ओर से समस्त प्रभागों में नियंत्रण कक्ष को मुस्तैद बनाने के निर्देश दिए गए हैं। प्रधान मुख्य वन संरक्षक व विभागाध्यक्ष सुधीर कुमार शर्मा ने बताया कि प्रत्येक प्रभागीय वनाधिकारी व वन संरक्षक कार्यालय में भी अग्नि नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। शासन की मंशा के अनुरूप यह नियंत्रण कक्ष 24 घंटे कार्य करेगा। यहां तीन शिफ्ट में कर्मचारियों की भी तैनाती रहेगी। हीलाहवाली न हो, इसके लिए विभिन्न रेंजों में सूचनाएं रजिस्टर में पंजीकृत कर तत्काल उसके निदान पर कार्य भी किया जाएगा। वन संरक्षक जोनल मुख्य वन संरक्षक को इससे जुड़ी जानकारी भी देंगे।

लखनऊ में हेल्पलाइन नंबर पर दी जा सकेगी जानकारी:-
क्षेत्रीय व मंडलीय मुख्य वन संरक्षक स्तर पर भी अग्नि नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। अधीनस्थ कार्यालयों से मिली सूचनाओं को अफसरों तक पहुंचाने में यह माध्यम बनेंगे। वहीं लखनऊ में हेल्पलाइन नंबर 0522-2207951 पर इससे जुड़ी सूचनाएं दी जा सकती हैं। अन्य सभी जनपदों में भी आमजन व अन्य विभागों के अधिकारियों को स्थानीय हेल्पलाइन नंबर भी उपलब्ध कराया जाएगा।

मॉनीटरिंग से घटनाओं में आई कमी:-
- नवंबर 2020 से जून 2021- 10275 मामले
- नवंबर 2021 से जून 2022- 6030 मामले
- नवंबर 2022 से जून 2023- 3339 मामले

Tags: lucknow

About The Author

Latest News

लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर
लोगो से जनसम्पर्क कर घर घर बाँटे मोदी की गारन्टी वाले कलेंडर फ़िरोज़ाबाद ,भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष व महानगर...
14 अप्रेल को धूमधाम से निकाली जायेगी सम्राट अशोक की शोभायात्रा
प्रधानमंत्री मोदी का दौसा में भव्य रोड शो, लोगों ने बरसाए फूल
तेज रफ्तार यात्री बस ने पिता-पुत्र को रौंदा, दोनों की मौत
उदयपुर से जम्मूतवी के लिए स्पेशल साप्ताहिक ट्रेन 25 से
मुख्यमंत्री शनिवार को भादरा व नोहर में जनसभा करने के बाद फतेहपुर में रोड शो करेंगे
 मतदान दलो का प्रशिक्षण शनिवार से प्रारंभ