न्यायाधीश ने जलवायु कार्यकर्ता थनबर्ग को तेल-गैस सम्मेलन में बाधा डालने के आरोपों से किया बरी

न्यायाधीश ने जलवायु कार्यकर्ता थनबर्ग को तेल-गैस सम्मेलन में बाधा डालने के आरोपों से किया बरी

लंदन। स्वीडिश जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग को लंदन में पिछले साल तेल एवं गैस उद्योग के एक बड़े सम्मेलन में प्रवेश अवरूद्ध करने के आरोपों से एक न्यायाधीश ने शुक्रवार को बरी कर दिया। थनबर्ग को चार अन्य प्रतिवादियों के साथ बरी किया गया। न्यायाधीश जॉन लॉ ने कहा कि 17 अक्टूबर 2023 की घटना के दौरान लोक व्यवस्था अधिनियम का उल्लंघन करने के आरोपों के सिलसिले में थनबर्ग और अन्य के खिलाफ पेश किये गए सबूतों में काफी कमियां हैं। स्वीडिश पर्यावरणविद् के दोषी पाये जाने पर वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत उनपर 2,500 पाउंड (3,190 अमेरिकी डॉलर) तक का जुर्माना लगा सकती थी। थनबर्ग (21) उन दो दर्जन से अधिक प्रदर्शनकारियों में शामिल थीं, जिन्हें 17 अक्टूबर को एनर्जी इंटेलिजेंस फोरम के दौरान एक होटल में प्रवेश रोकने के बाद गिरफ्तार किया गया था। ज्ञात रहे कि ग्रेटा थनबर्ग विश्व प्रसिद्ध जलवायु कार्यकर्ता हैं।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News

भाजपा के 10 साल के शासनकाल में देश का युवा बेरोजगार:प्रियंका गांधी वाड्रा भाजपा के 10 साल के शासनकाल में देश का युवा बेरोजगार:प्रियंका गांधी वाड्रा
रुडकी (देशराज पाल)। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी शनिवार को रुड़की के केएलडीएवी मैदान में कांग्रेस प्रत्याशी वीरेंद्र सिंह...
घोषणा पत्र नए वादों में क्या होगा खास?
 पेट अच्छे से साफ ना हो तो ....?
सरसों के तेल में ये चीजें मिलाकर लगाएं
 दिल्ली समेत कई राज्यों में बारिश का अलर्ट
 कंगना के खिलाफ विक्रमादित्य सिंह 
सिडनी हत्याकांड में छह लोगों की  मौत