स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस विधायक की पहरेदारी: रात-दिन एलईडी स्क्रीन पर नजर

स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस विधायक की पहरेदारी: रात-दिन एलईडी स्क्रीन पर नजर

अनूपपुर। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मतदान के बाद सभी उम्मीदवारों को अपनी की गई मेहनत के बाद मतदाताओं द्वारा दियें गयें अंक ईवीएम मशीनों में बंद हैं जिसके खुलने का इंतजार हैं। जब 3 दिसंबर को ईवीएम मशीने परिणाम बतायेंगी। वहीं इन ईवीएम की सुरक्षा की जिम्मेदारी चुनाव आयोग की होती है। लेकिन अनूपपुर जिले में लगातार दूसरी बार स्ट्रांग रूम की पहरेदारी कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ता कर रहें हैं। इन्हें भय भाजपाई प्रशासन से है। स्ट्रांग रूम के सामने टेंट लगा कर एलईडी स्क्रीन पर दिन-रात नजर बनाए हुए हैं।

अनूपपुर जिले में पॉलिटेक्निक कालेज में बने स्ट्रांग रूम के बाहर गत वर्ष की भांती इस बार भी कांग्रेस विधायक सुनील सराफ अपने कार्यकर्ताओं के साथ मतदान के बाद से यही जमे हुए हैं। दिन-रात एलईडी स्क्रीन पर कांग्रेसी विधायक सहित सभी 24 घंटे नजर गड़ाए हुए हैं। सुबह से लेकर रात तक हर पल उनकी निगाहें बाहर लगी स्क्रीन पर लगी हुई है।

भाजपाई प्रशासन से खतरा बताते हुए कोतमा विधानसभा से कांग्रेस उम्मीदवार सुनील सराफ ने कहा कि यह हमारी सजकता है और हम यदि यहां से चले जाते हैं और निगरानी नहीं रखते तो कुछ भी हो सकता है, हमें प्रशासन पर भरोसा नहीं है प्रशासन कहीं ना कहीं भाजपा के इशारे पर चल रहा है और सुरक्षा पर सवाल खड़ा करते हुए कहा की प्रशासन आरएसएस, और भाजपा के इशारों पर नाचता है।

Tags:

About The Author

Latest News

रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित रिम्स में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल और वेट लैब स्थापित
रांची। रिम्स के क्षेत्रीय नेत्र संस्थान में राज्य का पहला सर्जिकल स्किल एवं वेट लैब स्थापित किया गया है। रिम्स...
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन चार मार्च को जाएंगे गिरिडीह
मतदान के प्रति जागरूक करना हमारी नैतिक जिम्मेवारी: निदेशक
सीआईडी ने दो साइबर अपराधी को किया गिरफ्तार
जबलपुर इंजीनियरिंग कालेज को "टेक्नोलॉजी हब" बनाने की दिशा में हो क्रियान्वयन: मंत्री परमार
मंत्री कृष्णा गौर ने की गुफा मंदिर में महाशिवरात्रि आयोजन की तैयारियों की समीक्षा
अपने लोगों पर गर्व करने की परंपरा करनी होगी विकसित: उच्च शिक्षा मंत्री परमार