शिक्षकों ने कहा विकसित भारत के सृजन का बजट

शिक्षकों ने कहा विकसित भारत के सृजन का बजट

चंदौली। जिले के सकलडीहा कस्बा स्थित सकलडीहा पीजी कॉलेज मे गुरुवार को विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने एक स्वर में बजट की सराहना करते हुए कहा कि यह विकसित भारत के सृजन का बजट है। अर्थव्यवस्था को नई रफ्तार देने वाले बजट को संपूर्ण समावेशी कहा जा सकता है। विश्वविद्यालय में गुरुवार दोपहर बजट पर हुई चर्चा में प्रो. इंद्रदेव सिंह ने कहा कि यह बजट भारत को वर्ष 2047 में विकसित देश बनाने में सहायक होगा।

कहा कि अंतरिम बजट में सरकार ने युवाओं किसानों महिलाओं एवं गरीबों सहित समाज के सभी वर्गों को ध्यान में रखकर पेश किया है। यह बजट देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने वाला है। परिचर्चा में भाग लेते हुए विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर अमन मिश्रा ने बजट को दूरगामी एवं लोक कल्याणकारी प्रभाव वाला बताया। अर्थशास्त्र विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर योगेंद्र तिवारी ने बताया कि यह बजट प्रधानमंत्री के विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने की ओर एक सकारात्मक कदम है।

IMG-20240201-WA0074डॉ मीनू श्रीवास्तव ने बताया कि यह बजट महिलाओं को और सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने वाला है। समाजशास्त्र विभाग अध्यक्ष डॉक्टर दयाशंकर सिंह यादव ने एवं भूगोल के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर अभय कुमार वर्मा ने बताया कि ग्रामीण एवं पिछड़े क्षेत्र को यह बजट कुछ राहत देने वाला है।

Tags:

About The Author

Related Posts

Latest News