पारित हो संसद के बजट सत्र में अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम

मांग न मानी गयी तो संसद भवन का घेराव करेंगे अधिवक्ता

पारित हो संसद के बजट सत्र में अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम

ब्रजेश त्रिपाठी

कौशाम्बी। संसद के मौजूदा बजट सत्र में केन्द्र सरकार से अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम कानून पारित कराए जाने की मांग को लेकर बुधवार को यहां कौशांबी मंझनपुर में जिला न्यायालय से डीएम कार्यालय तक वकीलों ने विरोध मार्च किया। अधिवक्ताओं ने इसके पहले लाइब्रेरी हाल में सभा कर अधिवक्ता की सुरक्षा का मुददा जोरशोर से उठाया अधिवक्ताओं ने राष्ट्रपति को संबोधित मांग के समर्थन में हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन डीएम कार्यालय पहुंचकर प्रशासनिक अधिकारी को सौपा। आल इण्डिया रूरल बार एसोशिएसन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल व संयुक्त अधिवक्ता संघ लालगंज के अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी महेश की अगुवाई में दोपहर बाद यहां अधिवक्ता सुरक्षा यात्रा पहुंची।अधिवक्ता सुरक्षा यात्रा में उत्साहित साथियों ने जोरदार स्वागत किया।

विरोध मार्च के दौरान अधिवक्ताओं ने सुरक्षा अधिनियम के समर्थन में सडक पर उतरकर जमकर नारेबाजी करते दिखे। यहां हुई आम सभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने कहा कि अधिवक्ता सुरक्षा अधिनियम को केन्द्र सरकार ने जल्द पारित न कराया तो चरणबद्ध आंदोलन के तहत दिल्ली में रूरल बार एसोशिएसन संसद भवन का घेराव करेगा। उन्होने कहा कि अधिवक्ताओं पर जगह जगह प्राणघातक हमले हो रहे है। कोर्ट परिसरो में भी कई अधिवक्ताओं की हत्याओं की घटनाएं भी हो चुकी है। यूपी सरकार जिस एडवोकेटस प्रोटेक्शन एक्ट की बात कर रही है उसे इस एक्ट का मसौदा वकीलों के बीच में सार्वजनिक करना चाहिए।

एसोशिएसन के राष्ट्रीय महासचिव एवं लालगंज संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी महेश ने कहा कि अधिवक्ताओं के मान सम्मान के साथ उनसे जुडी सुविधाओं को लेकर भी सरकारों का रवैया अत्यन्त निराशाजनक है। उपाध्यक्ष विकास मिश्र ने कहा कि अधिवक्ता सुरक्षा वादकारियों को न्याय दिलाने के लिए स्वतंत्र न्यायिक वातावरण की मजबूती के लिए अपरिहार्य है। अध्यक्षता करते हुए माडल डिस्टिक बार एसोशिएसन के अध्यक्ष राकेश जायसवाल ने कहा कि कौशाम्बी के जिले भर के अधिवक्ता इस मांग को लेकर पूरा समर्थन और संघर्ष में जोरदार भूमिका निभाएंगे। संचालन पूर्व महामंत्री अजय पाण्डेय ने किया।

आमसभा का संयोजन वरिष्ठ अधिवक्ता पं. हरिशंकर पाण्डेय ने किया। सभा के दौरान अधिवक्ताओं ने रूरल बार के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल, महासचिव अनिल त्रिपाठी, वरिष्ठ अधिवक्ता नोखे लाल पाण्डेय तथा शिव प्रसाद त्रिपाठी को माल्यार्पण कर संघर्ष मे सक्रिय योगदान के लिए सम्मानित किया। इस मौके पर महामंत्री लक्ष्मीकांत त्रिपाठी, प्रकाशचंद्र भटट, हरिशंकर पाण्डेय, विजय त्रिपाठी, महेन्द्र श्रीवास्तव, दिलीप सिंह, प्रदीप कुमार केसरवानी, शिवप्रताप सिंह, अजय विश्वकर्मा, रामसूरत पाण्डेय, संदीप सरोज, रामहर्ष वर्मा, अर्जुन सिंह, संदीप साहू, मिथलेश कुमार सिंह, वीरेन्द्र तिवारी, राजीव मिश्र, सत्येन्द्र श्रीवास्तव, अरूण मिश्र पिपरा, सुमित त्रिपाठी, प्रशांत सिंह, दिनेश सिंह आदि रहे।

Tags: Kaushambi

About The Author

Related Posts

Latest News

खड़ंजा खोदने को लेकर दो पक्षों में हुए खूनी सघर्ष में घायल एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मृत्यु खड़ंजा खोदने को लेकर दो पक्षों में हुए खूनी सघर्ष में घायल एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मृत्यु
कौशाम्बी।  जिले के कौशाम्बी थाना क्षेत्र के बेरौचा गांव में दरवाजे के सामने लगे खड़ंजा खोदने को लेकर दो पक्षों...
गैर इरादतन हत्या के मामले में अभियुक्त व अभियुक्ता को किया गया गिरफ्तार
माल क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब बरामद
बलरामपुर गार्डन में शुरू हुआ भव्य श्रीराम हनुमत महोत्सव
पीजीआई ने रूमैटिक हृदय रोग  उन्मूलन के लिए कसी कमर
डीएम की अध्यक्षता मे गेहू खरीद के संबंध में समीक्षा बैठक हुई आयोजित।
मां स्कंदमाता की गई आराधना