एनटीपीसी कोयला खनन व्यवसाय में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा : अनिमेष जैन

एनटीपीसी कोयला खनन व्यवसाय में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा : अनिमेष जैन

रांची। एनटीपीसी कोयला खनन मुख्यालय रांची में 75वां गणतंत्र दिवस बड़े गर्व और देशभक्तिपूर्ण उत्साह के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अनिमेष जैन, मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ), एनटीपीसी माइनिंग लिमिटेड (एनएमएल) और क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक , कोयला खनन ने तिरंगा झंडा फहराया। इस अवसर पर जैन ने कहा कि एनटीपीसी 73874 मेगावाट की स्थापित क्षमता के साथ देश के हर चौथे बल्ब को जलाकर देश की ऊर्जा सुरक्षा में सबसे बड़ा योगदान कर्ता रहा है और इसका कोयला खनन व्यवसाय मुख्य व्यवसाय को समर्थन देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष में एनटीपीसी-एनएमएल ने 27.5 एमएमटी का रिकॉर्ड कोयला उत्पादन किया है, जो साल-दर-साल 65 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज किया और इस वित्तीय वर्ष में 77 प्रतिशत के साथ 28.5 एमएमटी कोयला प्रेषण किया है।

उन्होंने कहा कि केरेन्डरी कोयला खनन परियोजना से कोयला उत्पादन 25 जनवरी को शुरू हुआ और इसके साथ, यह एनटीपीसी को ईंधन देने के लिए कोयला उत्पादन करने वाली एनटीपीसी की 5वीं कोयला खदान बन गई। उन्होंने कहा कि बादाम कोयला खनन परियोजना वित्तीय वर्ष 2023-24 में कोयला उत्पादन शुरू कर देगी। इस अवसर पर जैन ने कर्मचारियों को उनकी प्रतिबद्धता और समर्पण के लिए बधाई दी, जिसके परिणामस्वरूप रिकॉर्ड कोयला उत्पादन हुआ और इसकी खदानों से एनटीपीसी बिजली स्टेशनों को भेजा गया सीईओ, एनएमएल और क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (कोयला खनन) ने कहा कि एनटीपीसी माइनिंग लिमिटेड (एनएमएल) खनन, ईंधन में आत्मनिर्भरता की कल्पना कर रही है, एनटीपीसी का लक्ष्य इस साल एनटीपीसी के 50 साल पूरे होने से पहले 50 एमएमटी हासिल करना है और एनटीपीसी की कोयला आवश्यकता का 30 प्रतिशत कोयला आवश्यकता 2030 को पूरा करेगा, और 2037 तक एनटीपीसी की 50 प्रतिशत कोयले की आवश्यकता को पूरा करने का लक्ष्य है।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News