फरवरी तक डायबिटीज रोगियों को एक छत के नीचे मिलेगा इलाज

पीजीआई निदेशक ने किया ध्वजारोहण,दिलाई शपथ,किया सम्मानित

फरवरी तक डायबिटीज रोगियों को एक छत के नीचे मिलेगा इलाज

लखनऊ। चिकित्सा संस्थान में गणतंत्र दिवस के अवसर पर हेल्थ कर्मियो को शपथ दिलाई गयी। बीते शुक्रवार को एसजीपीजीआई में 75वां गणतंत्र दिवस पूरे उत्साह और उमंग के साथ मनाया गया। जिसमें संस्थान के निदेशक प्रो आरके धीमान ने परंपरागत रूप से ध्वजारोहण किया और संस्थान सदस्यों को राष्ट्र की एकता और अखंडता सुनिश्चित करने वाली बंधुता को बढाने के लिये शपथ भी दिलाई। उन्होंने पिछले एक वर्ष की उपलब्धियों का लेखा जोखा पेश करते हुए इमरजेंसी मेडिसिन एवं रीनल ट्रांसप्लांट सेन्टर की प्रगति के विषय पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से इमरजेंसी बेड्स का विस्तार किया जा रहा है। इएमआरटीसी में इन्टरवेन्शनल नेफ्रोलौजी शुरू करने के लिये नेफ्रोलौजी विभाग की सराहना की।  
 
प्रो.धीमान ने एडवांस डायबिटिक सेंटर के विषय में भी जानकारी देते हुए बताया कि डायबिटीज से संबंधित हर बीमारी के लिए एक ही छत के नीचे समस्त उपचार सुविधाएं होंगी। यह सेंटर फरवरी माह तक कार्य करने लगेगा। साथ ही हब और स्पोक मॉडल पर आधारित टेली आईसीयू के विषय में भी उन्होंने कहा कि पीजीआई और उत्तर प्रदेश के 6 मेडिकल कॉलेजो के बीच में 100 बेड्स का टेली आईसीयू भी एक बड़ी उपलब्धि है, जो बहुत शीघ्र ही क्रियाशील हो जायेगा।  उन्होने बताया कि हेड एंड नेक सर्जरी व इनफे क्शन डिजीज विभागों के सृजन की प्रक्रिया भी चल रही है।
 
इन्हें क्रियाशील बनाने के लिए संकाय सदस्यों की भर्ती की प्रक्रिया जारी है। इन विभागों  के आने से बेड्स की संख्या में बढ़ोतरी होगी। इस समय संस्थान में 2273 बेड्स क्रियाशील है।  उन्होंने संस्थान के सभी विभागाध्यक्षों से निवेदन किया कि वह "मेक इन इंडिया" कैंपेन का हिस्सा बनते हुए यहां नवाचार को बढावा दे और रोगी सेवा में तकनीक के सर्वोत्तम इस्तेमाल के लिए एसटीपीआई के उद्देश्य को पूरा करने में सहयोग करें।
 
निदेशक ने रोबोटिक सर्जरी को बढ़ाने के लिए दो रोबोट और लाने के बात करते हुए कहा कि शीघ्र ही हम गामा नाइफ को भी पीजीआई में उपलब्ध करा पायेगे। वहीं उत्कृष्ट कार्य करने वाले संस्थान कर्मियों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संस्थान के सीएमएस प्रो. संजय धीराज, संयुक्त निदेशक प्रशासन प्रो. रजनीश कुमार सिंह, चिकित्सा अधीक्षक प्रो. वीके पालीवाल, एक्जक्यूटिव रजिस्ट्रार  कर्नल वरूण बाजपेयी, संकाय अध्यक्ष प्रो शालीन कुमार व अन्य संकाय सदस्य रहे।
Tags: lucknow

About The Author

Latest News

हवन, यज्ञ, भण्डारे के साथ 9 दिवसीय अनुष्ठान सम्पन्न हवन, यज्ञ, भण्डारे के साथ 9 दिवसीय अनुष्ठान सम्पन्न
बस्ती - श्रीराम जानकी मंदिर निपनिया चौराहा में मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा के निमित्त  दसकोलवा में आयोजित 9 दिवसीय श्री शिव...
डीएम ने निर्वाचन कार्यो की समीक्षा में दिए आवश्यक निर्देश
कठिन परिश्रम पर ही भाग्य निर्भर: सृष्टि मिश्रा
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर फ्लाईओवर से तेज रफ्तार कार नीचे गिरी, चार घायल
यूपीएससी में 10वीं रैंक हासिल करने पर दक्ष फाउंडेशन ने ऐश्वर्यम प्रजापति का किया स्वागत
जिला जज रैंक के 53 जजों को मिली नई तैनाती
विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी से जूझ रहा कबरई सीएचसी