पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित जागेश्वर ने भितघरा ग्राम पंचायत में फहराया तिरंगा

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित जागेश्वर ने भितघरा ग्राम पंचायत में फहराया तिरंगा

रायपुर /जशपुर। पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित होने की सूचना के बाद आज जागेश्वर राम यादव ने सबसे पहले भगवान शिव के मंदिर में पहुंच कर पूजा अर्चना की। इसके बाद अपनी भितघरा ग्राम पंचायत में तिरंगा फहराया। भितघरा ग्राम पंचायत के ग्रामीणों ने आज पंचायत भवन में गणतंत्र दिवस के अवसर पर जागेश्वर राम से ही झंडा फहराने के लिए आमंत्रित किया था।  तिरंगा फहराने के बाद सरपंच अलिना ने जागेश्वर यादव को शाल श्रीफल से सम्मानित किया गया। पद्मश्री पुरस्कार से नवाजे जाने की मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और पत्थलगांव विधायक गोमती साय से कल फोन पर सूचना मिलने के बाद भितघरा गांव मे खुशी का माहौल बना हुआ है।

उल्लेखनीय है कि जागेश्वर यादव बगीचा विकासखण्ड के भितघरा गाँव मे रह कर जशपुर, सरगुजा और रायगढ़ जिले में विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों को शिक्षा से विकास की डगर के लिए जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आबादी क्षेत्र से दूर रहने वाले बिरहोर परिवार के लोग पहले बंदरों को मार कर खा लेते थे। इस जनजाति के लोग अंधविश्वास के कारण ही स्वास्थ्य और शिक्षा से दूर रहते थे लेकिन इन्हीं लोगों के साथ रह कर उन्हें अंधविश्वास से दूर किया। आश्रम स्कूलों में पढ़ कर इनके बच्चों को देखकर दूसरे लोगों उसी भी विकास शिक्षा से नजदीकी बनाई। बिरहोर परिवार के बच्चों को शिक्षा से जोड़ने के लिए जागेश्वर यायव के सुझाव पर भितघरा तथा अन्य दूरस्थ गांवों में प्रशासन ने आधा दर्जन आश्रम स्कूल तथा बिरहोर छात्रावास खोलने की पहल की गई थी। इसके अच्छे परिणाम के बाद शिक्षा का उजियारा से दूर रहने वाले विशेष पिछड़ी जनजाति के बच्चों का पढ़ाई में रूझान बढ़ने लगा।

 

 

Tags:

About The Author

Latest News