देश को विकास के पथ पर ले जाने के लिए सभी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करायें-अविनाश।

क्षेत्र, समाज, राष्ट्र के विकास के लिए मतदान प्रक्रिया में प्रतिभाग कर मतदान अवश्य करें- जिला निर्वाचन अधिकारी।

 देश को विकास के पथ पर ले जाने के लिए सभी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करायें-अविनाश।

मैनपुरी - जिलाधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह ने 14-वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर सुदिति ग्लोबल एकैडमी में आयोजित राष्ट्रीय मतदाता दिवस गोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 1947 में आजादी के बाद देश के सामने बड़ी चुनौतियां थी, देश 560 से अधिक रियासतों में बंटा हुआ था जिसमें 50 प्रतिशत से अधिक का भू-भाग समाहित था, इन छोटी-छोटी रियासतों को एक सूत्र में पिरोकर मजबूत राष्ट्र, मजबूत भारत का निर्माण कैसे किया जाए, शासन का कौन सा ऐसा तंत्र चुना जाए जिससे देश एकजुट होकर तेजी के साथ आगे बढ़ सके, ब्रिटिश पार्लियामेंट द्वारा पारित इंडियन इंडिपेंडेंस एक्ट के तहत रियासतों को आजादी थी कि या तो वो भारत के साथ रहें या पाकिस्तान के साथ मिल जायें या फिर आजाद रहें, ऐसी परिस्थितियों में प्रथम गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल के विशेष और सार्थक प्रयासों के कारण ही सभी रियासतें स्वतंत्र भारत में शामिल हुए, भारत मजबूत राष्ट्र बना।
 
उन्होंने कहा कि लोकतंत्र से बेहतर कोई मार्ग नहीं हो सकता, लोकतंत्र की जडें न सिर्फ शासन के लिए बल्कि लोकतंत्र की भावना, विचार, व्यवस्था के लिये बहुत उपयोगी है जहां लोकतंत्र एक ओर विचारों की भिन्नता की आजादी देता है, किसी भी दल, व्यक्ति के विचार अलग-अलग हो सकते हैं लेकिन अलग-अलग विचारों के बावजूद भी एकता और अखंडता के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं हो सकता, वैचारिक मतभेद अल्पमत को हमेशा स्वीकार करने चाहिये बहुमत के आधार पर ही आगे बढने में ही विकास के मार्ग पर अग्रसर होंगे, बहुमत को भी अल्पमत की भावना को ध्यान में रख नीतियां बनानी होगी, लोकतंत्र में यह व्यवस्था दी गई है।श्री सिंह ने कहा कि लोकतंत्र के प्रभावी तौर पर लागू होने के बाद सभी मतदाताओं को प्रत्येक मतदान में प्रतिभाग कराने की भी बहुत बड़ी चुनौती सामने थी, भारत निर्वाचन आयोग ने इस ओर भीं निरंतर सकारात्मक ढंग से कार्य किया,
 
मतदाताओं को मतदान केद्रांे पर सुरक्षित, भयमुक्त माहौल उपलब्ध कराया, प्रत्येक वयस्क मतदाता का नाम मतदाता सूची में शामिल हो, इसके लिए वर्ष में 04 बार मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य 01 जनवरी, 01 अप्रैल, 01 जुलाई, 01 अक्टूबर अर्ह तिथि निर्धारित कर नाम को मतदाता सूची में शामिल करने की व्यवस्था की गई। उन्होंने कहा कि मतदान प्रक्रिया में 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर रहे मतदाताओं को शामिल कराने के साथ ही 16 वर्ष से अधिक भावी मतदाताओं की भी किसी न किसी रूप में भागीदारी सुनिश्चित कराकर उन्हें लोकतांत्रिक परंपराओं से जुड़ने का अवसर प्रदान किया। उन्होंने 16 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के बच्चों का आह्वान करते हुए कहा कि मतदान प्रतिशत बढ़ाने में अपना योगदान दें, ऐसे मतदाता जो मतदान प्रक्रिया में भागीदारी नहीं करत,े उन स्थानों, मुहल्लों, ईट-भट्टों, मलिन बस्तियों में निवास कर रहे मतदाताओं को विशेष रूप से फोकस कर जागरूक करें, 18 वर्ष के नये मतदाता अपनी विशेष भागीदारी सुनिश्चित कारायें।
 
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि विधानसभा निर्वाचन में कुछ सीटों पर बहुत कम अंतर से हार-जीत हुई है, जिस कारण प्रत्याशी की कार्य करने की क्षमता पर असर पड़ता है यदि अधिक से अधिक मतदाता प्रतिभाग करेंगे और अपने पसंदीदा उम्मीदवार को अधिक से अधिक मतों के अंदर से विजयी बनाएंगे तो निर्वाचित प्रत्याशी की भी हौसला बढ़ेगा और वह ज्यादा ऊर्जा के साथ क्षेत्र के विकास के लिए कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि जनपद की मतदाता सूची के जेण्डर रेशियों में निरंतर प्रयास के बाद भी सुधार नहीं हो पा रहा है सभी लोग मतदाता सूची का जेण्डर रेशियों सुधारने के लिये सूची में नाम शामिल होने से वंचित महिला मतदाता के नाम शामिल कराने में अपना योगदान दें।
 
मुख्य विकास अधिकारी नेहा बंधु ने कहा कि सभी मतदाता निर्वाचन प्रक्रिया में भागीदारी कर लोकतंत्र द्वारा दिए गए मताधिकार का प्रयोग अवश्य करें। उन्होंने मतदाताओं का आह्वान करते हुए कहा कि मतदान के दिन सबसे पहले काम मताधिकार का रखें, सभी युवा, महिला, बुजुर्ग मतदाता अपने दायित्व को समझ मतदान प्रक्रिया में बढ़कर भागीदारी कर लोकतंत्र के पर्व को हर्षाेल्लास से मताधिकार कर मनाएं। उन्होंने कहा कि मतदाताओं के द्वारा रुचि न लिए जाने के कारण गत निर्वाचनों में मतदान का प्रतिशत कम रहा है, जो लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है, सभी मतदाताओं को देश को समृद्ध बनाने, लोकतंत्र को मजबूत बनाने की दिशा में अपनी भागीदारी करनी होगी।कुंवर आरसी कन्या इंटर कॉलेज, राजकीय कन्या इंटर कॉलेज, सुदिति ग्लोबल एकैडमी, क्रिश्चियन इंटर कॉलेज, नेहरू स्मारक इंटर कॉलेज की छात्राओं द्वारा मतदाता जागरूकता पर आधारित मोहक रंगोली का अवलोकन कर प्रतिभागी छात्राओं का उत्साहवर्धन किया, विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत, गुइंया चलो छैया-छैया चुनाव करें,
 
जल्द चलो बहन-भैया मतदान करें, मैं भारत हूं-भारत है दिल में, हम भारत के मतदाता-मतदान करने जाएंगे भारत के लिए, पर मोहक नृत्य प्रस्तुत किया, विद्यालय के
मैनेजिंग डायरेक्टर लव मोहन के नेतृत्व में मतदान के महत्व पर आधारित नुक्कड नाटक के माध्यम से उपस्थित युवाओं को संदेश दिया कि गलत व्यक्ति के पक्ष में प्रलोभन में आकर मतदान करने से किस प्रकार के दुष्परिणाम समाज को भुगतने पडते हैं, कैसे देश का विकास अवरूद्व होता है, का संदेश दिया। जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, सुदिति ग्लोबल के निदेशक ने विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान के दौरान 01 जनवरी 24 को 18 बर्ष की आयु पूर्ण कर रहे नवीन मतदाता हर्ष कुमार, भानू प्रताप, फौशलेन्द्र सिंह, शालिनी रमन, महिमा चौहान, संजना गोस्वामी, प्राची दीक्षित, आकांक्षा गोस्वामी को ईपिक, दिव्यांग मतदाता दुर्वेश, मतदाता जागरूकता में बेहतर कार्य करने में संजना श्रीवास्तव, तान्या गुप्ता, निहारिका दुबे, अभिरूद्र मनी, नवनीत यादव, स्काउट गाइड में अच्छा कार्य करने पर ललिता
 
पाण्डेया, अग्रसा गुप्ता, राम सिंह चन्देल, नरेन्द्र पाल सिंह, मु. नदीम, एनएसएस और एनसीसी में अच्छा कार्य करने पर केशव भदौरिया, मु. रहीम, देव चौहान, दीक्षा, मेजर एस के मल्ल, ले. सविता, प्रतिभा जायसवाल, राजेश सेन, प्रदीप कुमार, मतदाता जागरूकता में बेहतर कार्य करने पर प्रिंस यादव, कृतिका गुप्ता, राजेन्द्र सिंह, के के सिह, स्वीप आईकान दमन यादव, बलराम श्रीवास्तव को प्रमाण पत्र, प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।  इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी राम जी मिश्र, उप जिलाधिकारी सदर अभिषेक कुमार, जिला विद्यालय निरीक्षक अजय कुमार, स्वीप कार्डीनेटर डा. शैफाली यादव, तहसीलदार सदर विशाल सिंह, विभिन्न विद्यालयों के प्रधानाचार्य आदि उपस्थित रहे, सुदिति ग्लोबल एकैडमी के निदेशक डा. राममोहन, प्रधानाचार्य डा. कुसुम मोहन, लव मोहन ने सभी अतिथियों को माल्यापर्ण, शॉल, प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।
 
 
 
 
Tags: Mainpuri

About The Author

Latest News