पुरानी पेंशन बहाली हेतु कर्मचारी शिक्षकों ने हड़ताल के लिए सहमति पत्र भरे 

पुरानी पेंशन बहाली हेतु कर्मचारी शिक्षकों ने हड़ताल के लिए सहमति पत्र भरे 

अलीगढ़। पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मंच के आवाहन पर जनपद के कर्मचारी शिक्षकों ने हड़ताल के संबंध में अपनी सहमति प्रदान करने हेतु वोटिंग की।इस दौरान कर्मचारी शिक्षकों का उत्साह देखने योग्य था और जनपद के समस्त केंद्रीय कर्मचारी,राज्य कर्मचारी एवं शिक्षकों ने पुरानी पेंशन बहाली के लिए संभावित हड़ताल के संबंध में अपनी सहमति प्रदान की। वहीं जनपद के समस्त रेलवे स्टेशन,समस्त तहसील,ब्लॉक कार्यालय सिंचाई विभाग,आईटीआई वाणिज्य कर विभाग,ट्यूबवेल विभाग, विकास भवन आदि विभागों में कर्मचारी और शिक्षकों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और पुरानी पेंशन बहाली हेतु अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित की जबकि विभिन्न कार्यालय में कल भी यह अभियान जारी रहेगा व सरकार द्वारा पुरानी पेंशन बहाली के संबंध में निर्णय न लिए जाने से कर्मचारी शिक्षकों में जबरदस्त नाराजगी है और जनवरी में संभावित हड़ताल के लिए प्रतिबद्ध हैं।

    आज जनपद के विभिन्न कार्यालय में परिषद के अध्यक्ष डॉ.नरेश कुमार रेलवे मेंस यूनियन के अध्यक्ष मृत्युंजय शर्मा,पूर्व माध्यमिक विद्यालय शिक्षक संघ के जिला मंत्री इंद्रजीत सिंह,परिषद के कार्यवाहक अध्यक्ष संजीव चौधरी,जिला मंत्री शिवकुमार सिंह,संयुक्त मंत्री मुकेश सोलंकी, उपाध्यक्ष विनोद प्रधान,हुकम सिंह, हरेश्वर शर्मा,पृथ्वी सिंह,अवधेश शर्मा, सत्येंद्र कुमार चौहानऔर वीरेंद्र सिंह आदि ने विभिन्न विभागों का दौरा किया और कर्मचारी शिक्षकों का उत्साहवर्धन किया।

Tags:

About The Author

Latest News

Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर Kushinagar : नफरत में चली गोली, एक युवक की हालत गंभीर
कुशीनगर। जनपद में शुक्रवार को कसया थाना क्षेत्र के ग्राम नादह गांव में आपसी रंजिश में चली गोली, एक युवक...
बैंक डकैती : कैशियर को गोली मारकर बैंक लूट का प्रयास,दोनों आरोपी गिरफ्तार
डिस्पोजेबल कप पर लगाने होंगे नाम वाले स्टीकर्स, ताकि कचरा कौन फैला रहा है पकड़ में आ सके!
जल जीवन मिशन की प्रगति के लिए एकजुट होकर करें कार्य - चौधरी
पर्यटन की दृष्टि से विकसित होगा उदयपुर का बाघदड़ा नेचर पार्क
कोडरमा में ढिबरा स्क्रैप मजदूर संघ का धरना 12वें दिन खत्म
25 हजार के कर्ज पर सूद में जुड़ गया पांच लाख, व्यापारी ने लगाई फांसी