विचार मित्र

अज्ञान का अंघेरा

Published at :22nd June, 2018, 4:37 PM जीवन दुविधा का रखवाला, सृष्टि का सब खेला है।। दूर तलक बैठा तारा भी, अन्धकार का मेला है।। काम काज सब छोड़ के सारे, रहते नफरत में ऐंठे।। अरे धूल में तो मिलना ही है, फिर धूल ही फांके क्यों बैठे।। भूल गए जब नौका ही, तो दरिया पार करें किसमें।। पुकारे अंतहीन ...

Read More »

अपरिहार्य गठबन्धन का अवसान

Published at :19th June, 2018, 6:27 PM डॉ दिलीप अग्निहोत्री कभी कभी खंडित जनादेश ध्रुव विरोधियों को भी साथ आने पर विवश कर देते है। जम्मू कश्मीर में भाजपा और पीडीपी का गठबन्धन ऐसा ही था। दोनों ने विधानसभा चुनाव एक दूसरे के खिलाफ लड़ा था। लेकिन खंडित जनादेश में इनके गठबन्धन से सरकार बनाने का एक मात्र विकल्प यही ...

Read More »

महाराणा के शौर्य से राष्ट्रवाद की प्रेरणा

Published at :14th June, 2018, 3:05 PMडॉ दिलीप अग्निहोत्री इतिहास केवल अतीत की जानकारी देने के लिए नहीं है। बल्कि इसके गौरवशाली प्रसंगों से भावी पीढ़ी को प्रेरणा लेनी चाहिए। इस संदर्भ में इतिहास का सही लेखन भी अपरिहार्य होता है। राष्ट्रीय स्वाभिमान के लिए सर्वस्व न्योछावर करने वाले महान होते है। महाराणा प्रताप ने यदि अपने और अपने परिवार ...

Read More »

संविधान और आरक्षण को अँगूठा! बिना यूपीएससी परीक्षा,सीधे 10 ज्वाइंट सेक्रेटरी चुनेंगे मोदी!

Published at :11th June, 2018, 7:51 PM आज के दिन को भारत के सामाजिक लोकतंत्र के इतिहास के कलंकित दिन के तौर पर याद किया जाएगा. आज पहली बार भारत सरकार ने एक विज्ञापन जारी करके कहा है कि सरकारी नीति बनाने के लिए वह अफसरों की बगैर किसी परीक्षा के नियुक्ति करेगी. विज्ञापन में साफ लिखा है कि ये अफसर ...

Read More »

विनाशकारी है अहंकार की राजनीति

Published at :21st May, 2018, 6:52 PM‘‘सत्ता पाय काह मद नाहीं’’ संत तुलसी की ये चौपायी अनादि काल से मानव के वजूद में गहरे समायी है। जनसेवा का भाव रखने वाले भी सत्ता से जुड़ते ही सामंती मानसिकता के मुरीद हो जाते हैं। सेवा भाव गौण होने लगाता है। सत्ता से जुड़े लोगों में वर्चस्व का भाव इस कदर हावी ...

Read More »

सूबे की मृतप्राय जांच एजेन्सियों को संजीवनी की आस!

Published at :21st May, 2018, 5:59 PM’’उत्तर प्रदेश की विविध सरकारी जांच एजेन्सियों में काबिल इंस्पेक्टर भेजे जायेंगे। इसके लिए सूबे के गृह विभाग ने पुलिस महानिदेशक मुख्यालय को निर्देश दिये हैं।’’ विगत दिनों समाचार पत्रों में प्रकाशित इस समाचार से दशकों से निष्क्रिय और मृतप्राय पड़ी इन जांच एजेन्सियों के प्रति आम जनता के हित में पुनः क्रियाशील होने ...

Read More »

सोंच…….शौचालय की

Published at :20th May, 2018, 2:39 PMसूखे शौचालय या फ्लश शौचालय? लोबज़ैंग चोरोल लेह, लद्दाख बदलते समय के साथ जीवन बहुत व्यस्त हो गया है, इस व्यस्तता के कारण हमें परिवारों के साथ बैठकर स्वस्थ और पर्याप्त भोजन करने तक का समय नही मिलता। हम इतने व्यस्त हैं कि हमारे पास सांस लेने का समय नहीं है। इसमें कोई शक ...

Read More »

सल्लू और छल्लू के बीच फर्क करती व्यवस्था

Published at :16th April, 2018, 1:34 PM -आशीष वशिष्ठ सल्लू और छल्लू के बीच वैसे तो कोई रिशता और बराबरी नहीं है, लेकिन एक मामले में दोनों एक प्लेटफार्म पर खड़े दिखाई देते हैं। दोनों काला हिरण मारने के दोषी हैं। दोनों को अदालत ने गुनाहगार मानते हुए सजा सुनाई है। और यह भी कि, सल्लू और छल्लू दोनों जमानत ...

Read More »

क्या हत्या व बलात्कार का पक्षधर भी है ‘सांस्कृतिक राष्ट्रवाद ’?

Published at :16th April, 2018, 10:43 AMतनवीर जाफ़री अनेक धर्मों व जातियों के इस विशाल देश भारत में जहां देश के विकास व प्रगति के लिए सभी वर्गों व समुदायों के लोग बराबर के जि़म्मेदार हैं वहीं दुर्भाग्यवश इस देश में घटित होने वाली आपराधिक घटनाओं में भी लगभग सभी धर्मों व समुदायों के लोगों की संलिप्तता पाई जाती है। ...

Read More »

बेटियों का सम्मान, देश का सम्मान

Published at :13th March, 2018, 5:05 PM-जै़नब आक़िल खा़न एक रात मुझे नींद नहीं आ रही थी मैंने सोचा चलो सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो देखती हूँ मैंने जैसे ही उस पर क्लिक किया मुझे ईव टीजिंग आॅन गल्र्स एण्ड रेप केस की वीडियों दिखी। मैंने जब उसे देखना शुरू किया जस्ट उसके नीचे मुझे अनलिमिटेड रेप केस एण्ड ईव ...

Read More »
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper

Responsive WordPress Theme Freetheme wordpress magazine responsive freetheme wordpress news responsive freeWORDPRESS PLUGIN PREMIUM FREEDownload theme free