पार्टनर से बात करते समय अक्सर ट्रिगर हो जाता है गुस्सा

शॉर्ट टेम्परर लोगों का जब मूड ऑफ होता है, तो उनका गुस्सा और भी बढ़ जाता है। ऐसे में अगर पार्टनर कोई गलत बात कह देता है तो फिर दोनों के बीच लड़ाई-झगड़ा होना तय है इसलिए अगर आपको लगता है कि छोटी-सी बात पर अगर आपका गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ जाता है और आप अपने पार्टनर पर बेवजह चिल्ला देते हैं, तो फिर आपको खुद को कंट्रोल करने की जरूरत है। आपको खुद पर कंट्रोल करने की जरूरत इसलिए है क्योंकि आपको रिश्तों की परवाह है और आपको पार्टनर पर गुस्सा करने के बाद बुरा फील होता है।

पहले बात को पूरा सुनें
कभी-कभी ऐसा होता है कि आधी-अधूरी बातें सुनकर हम रिएक्ट कर जाते हैं, जिससे हमें बात पूरी तरह समझ नहीं आ पाती, इसलिए बेहद जरूरी है कि आप आराम से बातों को पूरी तरह सुनें और फिर अपनी बातें रखें। इससे आपका टेम्परामेंट कंट्रोल में रहेगा।

अपनी बातों को आराम से कहें
अक्सर हम बातों को जल्दी से कह देना चाहते हैं जिसके कारण हम एक सांस में तेज-तेज बोलते चले जाते हैं। कहने को यह बात बहुत छोटी-सी है लेकिन इसका असर आप पर पड़ता ही है इसलिए आप गुस्से में अपनी बातें कहने से अच्छा अपनी बातों को पार्टनर को आराम से लॉजिकली समझाने की कोशिश करें।

लम्बी सांस लें
यह बात किताबी लग सकती है लेकिन अगर आप अप्लाई करेंगे, तो आपको फर्क समझ में आएगा। आपको अगर पार्टनर की किसी बात से गुस्सा आ रहा है, तो आपको ब्रीदिंग एक्सरसाइज (3-4 लम्बी सांसे लेनी हैं) इससे आप रिलेक्स फील करेंगे और अपनी बात को बिना गुस्से के आसानी से कह पाएंगे।

See also  जब रात में कार से करना पड़े लंबा सफर तो इन 5 बातों का हमेशा रखें ध्यान

बाद में बात करने को कहें
आपको अगर बहुत तेज गुस्सा आ रहा है और आप चाहकर भी इसे कंट्रोल नहीं कर पा रहे हैं, तो फिर आप पार्टनर को बाद में बात करने को कहें। फोन रखने के बाद आप उनकी बातों को फिर से सोचें और फिर उसके मुताबिक आराम से अपनी बात लिखकर भेजें या गुस्सा ठंंडा होने पर कहें।