लोग आत्महत्या कर रहे हैं तो पुलिस क्या करे, यह एक बीमारी हैः मंत्री

-मंत्री ने मथुरा पुलिस को दी क्लीनचिट, यूपी पुलिस को बताया उत्तम पुलिस
मथुरा। उत्तर प्रदेश सरकार में पशुपालन और दुग्धविकास मंत्री चैधरी लक्ष्मीनरायण ने मथुरा पुलिस को क्लीनचिट दी है। विगत कुछ दिनों से मथुरा में हो एक के बाद एक हो रही बडी घटनाओं ने कानून व्यवस्था पर सवाल खडे कर दिये थे। राया में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे मंत्री चैधरी लक्ष्मीनरायण का कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। इस दौरान वह मीडिया से भी मुखातिब हुए। पत्रकार ने जब मथुरा की कानून व्यवस्था पर सवाल पूछा तो मंत्री ने ऐसा जबाव दिया कि हर कोई चैंक गया। उन्होंने कहाकि लोग आत्महत्या कर रहे हैं तो इसमें कानून व्यवस्था को कोई रोल नहीं बनता है। यह एक बीमारी है, व्यक्ति पर जब डिप्रेशन हावी हो जाता है तो वह आत्महत्या कर लेता है। हाल ही में हांगकांग में एक जज ने अपने कोर्ट में ही खुद को गोली मार ली। जब मानसिक स्थिति खराब होती है तो लोग गोली मार लेते हैं। इसमें पुलिस की क्या गलती। उत्तर प्रदेश की पुलिस देश के सबसे बडे राज्य की उत्तम पुलिस है जो कि सही कार्य कर रही है। अगर कहीं कोई समस्या होती है तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा एक्शन लिया जाता है। सरकार के विकास कार्यों को बताते हुए चैधरी लक्ष्मीनरायण ने कहाकि जितना कार्य विगत 2.5 साल में भाजपा की प्रदेश सरकार ने किया है उतना विकास कार्य प्रदेश में पिछले 70 साल में नहीं हुआ।

See also  मारपीट कर युवक को ट्रक से फेंका, मौत