विचार मित्र

प्रतिकूल परिस्थिति में संतुलन कैसे रहे?

Published at :21st July, 2018, 12:52 PMललित गर्ग हर व्यक्ति को जीवन में निराशा एवं प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करना ही पड़ता है, लेकिन सफल और सार्थक जीवन वही है जो सफलता और असफलता, अनुकूलता और प्रतिकूलता, दुख और सुख, हर्ष और विषाद के बीच संतुलन स्थापित करते हुए अपने चिंतन की धारा को सकारात्मक बनाए रखता है। जीवन की ...

Read More »

राम नाईक के बेमिसाल चार साल

Published at :20th July, 2018, 12:36 PM   डॉ दिलीप अग्निहोत्री उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने चरैवेति चरैवेति शीर्षक से अपने संस्मरण लिखे है। वस्तुतः यह उनका निजी जीवन दर्शन भी है। जिस पर उन्होंने सदैव अमल किया है। यही कारण है कि उन्होंने राजभवन के प्रति प्रचलित मान्यता को बदल दिया। चार वर्ष का उनका कार्यकाल चरैवेति चरैवेति ...

Read More »

शिक्षा के मंदिर में हम बच्चों का चरित्र निर्माण करें!

Published at :19th July, 2018, 12:22 PM-डॉ. जगदीश गाँधी, शिक्षाविद् एवं संस्थापक-प्रबन्धक, सिटी मोन्टेसरी स्कूल, लखनऊ (1) मनुष्य का चरित्र ‘क्लासरूम’ में ही गढ़ा जाता है :- ‘विद्यालय’ में आकर बालक का चरित्र शिक्षकों के द्वारा ‘क्लासरूम’ में ही गढ़ा जाता है। जिस तरह एक कुशल शिल्पकार अनगढ़ पत्थर को गढ़कर उसे सुन्दर मूर्ति का रूप दे देता है। उसी ...

Read More »

आधुनिक विचारों में हमारे कुछ मौलिक विचार कहीं खो गए

Published at :18th July, 2018, 12:48 PM डॉ नीलम महेंद्र नारी, स्त्री, महिला वनिता,चाहे जिस नाम से पुकारो नारी तो एक ही है। ईश्वर की वो रचना जिसे उसने सृजन की शक्ति दी है, ईश्वर की वो कल्पना जिसमें प्रेम त्याग सहनशीलता सेवा और करुणा जैसे भावों से भरा ह्रदय है। जो शरीर से भले ही कोमल हो लेकिन इरादों ...

Read More »

सम्मोहन व अध्यात्म का दुरुपयोग है बुराड़ी हत्याकांड

Published at :17th July, 2018, 1:22 PMश्याम सुन्दर मिश्र दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 10 सदस्य फाँसी के फंदे पर झूल गये और सबसे वरिष्टï सदस्या जमीन पर मृत पायी गयी, जिसका गला घोंटा गया था। एक ही समय पर योजनाबद्घ तरीके से की गई इन तथाकथित आत्माआहत्याओं में अनेकों पेंच हैं। पर एक बात बिलकुल स्पष्टï ...

Read More »

मनुष्य रूप में जन्म हमें लोक कल्याण के लिए ही मिला है!

Published at :16th July, 2018, 12:40 PM   डाॅ. जगदीश गांधी (1) जीवन के प्रत्येक पल को पूरे उत्साह के साथ जीना चाहिए:- लोक कल्याण की भावना से ओतप्रोत होकर सफल जीवन जीने के लिए प्रत्येक मनुष्य को ईश्वरीय ज्ञान रूपी शक्ति का प्रत्येक पल भरपूर सदुपयोग करना चाहिए। हम जैसा सोचते हैं हम अपने जीवन को वैसा ही बना भी ...

Read More »

प्रगति पथ पर मोदी और योगी की साझा यात्रा

Published at :15th July, 2018, 2:40 PM डॉ दिलीप अग्निहोत्री उत्तर प्रदेश का व्यापार सुगमता में दो पायदान आगे बढ़ना, नोयडा में सैमसंग का सबसे बड़ा निवेश, लखनऊ में उद्यमिता समिट, पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन कुछ ही दिनों की दास्तान है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विकास के जिस मॉडल के पक्षधर रहे है, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ उस दिशा में तेजी से ...

Read More »

कचरा बनी दिल्ली में टूटती जीवन सांसें

Published at :14th July, 2018, 4:19 PM– ललित गर्ग – प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता अभियान एवं उनके कथन कि “एक स्वच्छ भारत के द्वारा ही देश 2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर अपनी सर्वोत्तम श्रद्धांजलि दे सकते हैं।” का क्या हश्र हो रहा है, दिल्ली में स्वच्छता की स्थिति पर दिल्ली हाई कोर्ट की ताजा टिप्पणी से ...

Read More »

सत्ता पक्ष और विपक्ष की राजनीति में पिसता कश्मीर

Published at :26th June, 2018, 11:58 AMश्याम सुन्दर मिश्र कश्मीर का भारत में सशर्त विलय आज भी गले की फाँस बना हुआ है। यदि भारत सरकार राजनीति से परे हटकर शुद्घ ह्रïदय से इसका समाधान निकालती तो कश्मीर कभी का भारतीय गणराज्य का अंग बन गया होता और आत्मसंतोष के लिये बार-बार ये कहना न पड़ता कि कश्मीर भारत का ...

Read More »

अज्ञान का अंघेरा

Published at :22nd June, 2018, 4:37 PM जीवन दुविधा का रखवाला, सृष्टि का सब खेला है।। दूर तलक बैठा तारा भी, अन्धकार का मेला है।। काम काज सब छोड़ के सारे, रहते नफरत में ऐंठे।। अरे धूल में तो मिलना ही है, फिर धूल ही फांके क्यों बैठे।। भूल गए जब नौका ही, तो दरिया पार करें किसमें।। पुकारे अंतहीन ...

Read More »
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper

Responsive WordPress Theme Freetheme wordpress magazine responsive freetheme wordpress news responsive freeWORDPRESS PLUGIN PREMIUM FREEDownload theme free