आंखो के सामने एक साथ दोनों बेटों की मौत देखकर पिता का दिल दहल गया


कासगंज। जनपद के कछला घाट पर अने पिता के साथ गंगा स्नान के लिए आए दो इंजीनियर भाई नदी में डूब गए। वहीं गोताखोरों ने साथ में नहाने उतरे एक युवक को बचा लिया। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शवों को बाहर निकाला। अपनी आंखो के सामने एक साथ दोनों बेटों की मौत देखकर पिता का दिल दहल गया और आंखे आंसुओं से भर आई।
जानकारी के मुताबिक जनपद फिरोजाबाद के थाना उत्तर निवासी चरण सिंह अपने दो बेटे 28 वर्षीय अजीत और 22 वर्षीय अंकित, भांजे और अन्य युवक रोहित के साथ सुबह चार बजे कछला घाट पर गंगा स्नान के लिए आए थे। चरण सिंह अपने भांजे के साथ स्नान के बाद वैगेनार कार में बैठे थे। वहीं अजीत, अंकित और रोहित गंगा स्नान के लिए नदी में उतर गए। स्नान के दौरान तीनों युवक गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। आसपास के लोगों ने शोर मचाया, जिस पर चरण सिंह समेत अन्य लोगों ने युवकों को बचाने का प्रयास किया। इसी बीच लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मद्द से तीनों को बचाने का प्रयास किया। गोताखोरों ने काफी प्रयास कर रोहित को बचा लिया, लेकिन अजीत और अंकित का कुछ पता नहीं चल सका। कई घंटों की मशक्कत के बाद दोनों भाईयों को गंगा से बाहर निकाला गया। लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी।
दोनों बेटों की लाश देखकर पिता पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा और आंखे पथरा गई। परिवार को सूचित किया गया तो वहां भी कोहराम मच गया। भांजे ने बताया कि दोनों भाई इंजीनियर थे और सूरत में नौकरी करते थे, आज अपनी गाड़ी से पिता को लेकर गंगा स्नान को आए थे। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजना चाहा, लेकिन परिवार वालों ने पोस्टमार्टम से इंकार कर दिया और शवों को साथ ले गए।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper