बंगला विवाद पर बोले अखिलेश, उपचुनाव में हार से बौखलाई बीजेपी

नई दिल्ली। बंगले में तोड़फोड़ के मामले को लेकर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, कि उन्होंने बंगले में कोई तोड़-फोड़ नहीं कराई, न ही किसी तरह का नुकसान करवाया है। यादव ने आगे कहा कि वह बंगले से वही चीजें निकालकर ले गए हैं जो उन्होंने खुद लगवाईं थीं। इतना ही नहीं अखिलेश ने ये भी कहा कि मीडिया इस मामले को लेकर गतल तस्वीर पेश कर रही है।

गौरतलब है कि अखिलेश यादव संवाददाता सम्मेलन में नल की टोटी लेकर पहुंचे थे। उन्होंने कहा, मै टोटी लेकर आया हूं। मैं सभी टोंटी वापस करने को तैयार हूं। इस घर को मैंने अपनी पसंद और पैसा लगा कर बनवाया था। उन्होंने कहा कि बंगले में जो चीजें जैसी मिली थीं वह वैसी की वैसी ही हैं। इवेंट्री चेक करा लीजिए सारा दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। वहीं उन्होंने बंगले में स्विमिंग पूल होने की बात को सिरे से खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार कागजों पर चलती है बातों पर नहीं। मेरे घर में 1000 बच्चे आ चुके हैं उनसे पता कर लीजिए अगर कहीं वहां स्वीमिंंग पूल देखा हो। अखिलेश ने कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री के सरकारी बंगले में मंदिर, लकड़ी के सामान और लाइट तक मैंने अपने पैसे से लगवाए थे। वे या तो बिल दिखा दें या फिर हमारे सामान लौटा दें।

अखिलेश यादव नहीं रुके उन्होंने भाजपा पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि यह छोटे दिल की सरकार है जो मेट्रो के उद्घाटन पर जाती है और पूर्व सरकार को श्रेय देना भूल जाती है। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी सपा और बसपा गठबंधन भयबीत हो चुकी है। साथ ही उपचुनाव में मिली हार से बौखलाकर ऐसा काम करवा रही है।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper