छात्राओं को दिए सुरक्षा के महत्वपूर्ण टिप्स

एटा। बलात्कार विरोधी कानून बनने के बाद महिलाओं के खिलाफ यौन अपराधों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है  महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मामले में यह जिला अव्वल है अब पुलिस प्रशासन ने छात्राओं, महिलाओं व युवतियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है नारी के सम्मान में पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार चौरसिया के निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार के नेतृत्व में क्षेत्राधिकारी की सदर गुरूमीत सिंह की मौजूदगी में चलाए जा रहे नारी सुरक्षा एवं जागरुकता अभियान के अंतर्गत बुधवार को कोच ट्रेंनर कपिल देव ने स्कूली छात्राओं को पुलिस लाइन प्रांगण में महिला अपराध से जुड़े कानूनी प्रावधान, पुलिस द्वारा महिला सुरक्षा के लिए चलाई जा रही सेवाओं के सम्बन्ध में जानकारी सांझा की और नारी सुरक्षा के सम्बंध में जरूरी टिप्स देते हुए जूडो करांटे का प्रशिक्षण दिया गया पुलिस लाइन स्थित  में आयोजित नारी सुरक्षा एवं जागरुकता कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए क्षेत्राधिकारी सदर गुरूमीत सिंह ने कहा कि समाज के विकास में महिलाओं की भूमिका काफी अहम है, आज की नारी जब किसी बात के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं हैं तो अपनी सुरक्षा के लिए दूसरों का मुंह क्यों देखे उन्होंने कहा कि अपनी सुरक्षा खुद करनी होगी  ऐसे में उनके खिलाफ बढ़ रहे अपराधों पर अंकुश लगाया जा सकता है उन्होंने छात्राओं को सशक्त करने के लिए डायल 100, वूमेन पॉवर लाइन 1090, एंटी रोमियो स्क्वॉड, ट्विटर सेवा के साथ ही सुरक्षा के महत्वपूर्ण टिप्स दिए, वहीं छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनके साथ घर से स्कूल जाते समय रास्ते में कोई अमर्यादित घटना, असामाजिक तत्वों द्वारा छेड़छाड़ अथवा दुर्व्यवहार किया जाता है तो इसकी सूचना महिला पुलिस हेल्प लाइन 1090 पर दें, पुलिस शिकायतकर्ता की पहचान गुप्त रखेगी और आरोपियों के खिलाफ तुरत कार्रवाई की जाएगी  कार्यक्रम में अन्य ने भी नारी सुरक्षा व सशक्तिकरण पर विचार रखे  छात्राओं ने तालिया बजाकर अतिथियों का स्वागत किया  कार्यक्रम में दर्जनों की संख्या में छात्राओं ने प्रतिभाग किया।

=>
loading...
E-Paper