आने वाले समय में एयरलाइंस कंपनियां कराएंगी फ्री में यात्रा: वाउ

आने वाले समय में फ्री सफर करवाएंगी एयरलाइंस कंपनियां यह कहना है वाउ एयर के सीईओ का जी हां आपने सही सुना, तो पढिये पूरा मामला। इंटरनैशनल एयरलाइंस की बात करें तो 2014 में शुरू हुई वाउ एयर सस्ते में अच्छी सुविधाओं वाली कंपनियों में अपना अलग नाम बना पाई।

जनवरी में वाउ ने अमेरिका से यूरोपीय देशों की फ्लाइट केवल 69 डॉलर (4,440 रुपये) में ऑफर की। यही नहीं कंपनी ने जून में फ्लाइट्स का रेट 55 डॉलर कर दिया। सवाल यह है कि यह सिलसिला कब तक? इसका जवाब देते हुए वाउ एयर के फाउंडर और सीईओ स्कूली मॉन्गसन कहते हैं, ‘मैं उस दिन को देख सकता हूं जब हम आपको उड़ने के पैसे देंगे।’वाउ एयर ने अपने रेवन्यू का दायरा बढ़ाते हुए उसे केवल टिकट से होने वाली आय पर निर्भर नहीं रखा है।

कंपनी आपकी जरूरत के हिसाब से आपको सर्विस उपलब्ध कराती है। चाहें आप कोई खास सीट पसंद करें, जल्दी बोर्ड करें या फ्लाइट में खाने की मांग करें आपकी फ्लाइट का रेट इन सर्विसेज के मुताबिक ही होगा। इसके अलावा कंपनी ने होटल, रेस्ट्रॉन्ट्स, रेंटर कार एजेंसी और ट्रैवल इंडस्ट्री से जुड़ी अन्य सर्विसेज के साथ पार्टनरशिप कर रखी है। जिसके जरिए वाउ एयर ने रेवन्यू के अन्य जरिए निकाल रखे हैं।

वाउ एयर के फाउंडर और सीईओ स्कूली मॉन्गसन

वाउ एयर पैसेंजर्स को केवल उसी चीज का पैसा चुकाने का मौका देता है जो उसे चाहिए। कंपनी के सीईओ और फाउंडर मॉन्गसन कहते हैं, ‘हमारा मकसद यह है कि हमारा सेकंडरी रेवन्यू पैसेंजर के टिकट से ज्यादा हो जाए। जो भी एयरलाइंस सबसे पहले यह अचीव करेगी वह गेम चेंजर बनेगी।’ थ्योरी की बात करें तो अगर कोई एयरलाइंस पैसेंजर रेवन्यू से अपनी निर्भरता कम करती है तो वह हर टिकट का रेट कम कर सकती है। अगर कंपनियां ऐसा कर पाने में कामयाब होती हैं तो उनके लिए फ्लाइट का टिकट फ्री करना भी मुश्किल नहीं होगा क्योंकि रेवन्यू के लिए उन्हें पैसेंजर्स की जरूरत होगी। और इसी तरह वाउ एयर आपको हवाई सफर करने के पैसे देगी।

=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

E-Paper