पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप में सुंदर ने दिलाया भारत को पहला स्वर्ण

लंदन। राजस्थान के सुंदर सिंह गुर्जर ने लंदन में चल रहे आईपीसी पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2017 के पहले ही दिन अपनी भाला फेंक एफ-46 स्पर्धा में भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया।

रियो पैरालंपिक खेलों के स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झांझरिया की अनुपस्थिति में सुंदर ने कमाल का प्रदर्शन करते भाला फेंक स्पर्धा में देश को स्वर्ण दिला दिया।

राजस्थान के करौली में जन्में सुंदर गत वर्ष रियो खेलों का भी हिस्सा रहे थे। वह तकनीकी कारणों से क्वालीफाई नहीं कर सके थे।

भारतीय पैरालंपिक एथलीट ने अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर 60.36 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर पहला स्थान हासिल किया।

इस स्पर्धा में हालांकि अन्य भारतीय खिलाड़ी भरकू करीब आकर कांस्य पदक से चूक गए और चौथे स्थान पर रहे। सुंदर ने जीत के बाद कहा रियो में क्वालीफाई नहीं कर पाने से मैं बहुत निराश हो गया था, क्योंकि मैंने उसके लिए कड़ी मेहनत की थी। मैं बुरी तरह से टूट गया था, लेकिन यहां आकर मैं खुश हूं।

उन्होंने कहा मेरे लिए यह स्वर्ण पदक मनोबल बढ़ाने के लिए बहुत अहम है और अब मैं रियो की निराशा को पीछे छोड़ चुका हूं और अगले वर्ष एशियाई खेलों में अच्छा करने के लिए आश्वस्त हूं। हालांकि मैं यहां विश्व रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाने से निराश हूं लेकिन स्वर्ण जीतकर संतुष्ट हूं।

भाला फेंक एफ 46 स्पर्धा में 18 वर्षीय भरकू ने भी जबरदस्त प्रदर्शन किया, लेकिन वह पदक से चूक गए। रोहतक के भरकू रियो में पांचवें स्थान पर रहे थे। वह इस बार 55.12 मीटर की दूरी के साथ चौथे पायदान पर रहे। भरकू का ध्यान अब जूनियर विश्व चैंपियनशिप पर लगा है।

=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

E-Paper