एक और बाबा आये सामने, कंबल ओढ़कर करते हैं लोगो का इलाज, छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री राम सेवक पैकरा भी इलाज के लिए लगे लाइन में…

नई दिल्ली। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और आसाराम बाबू जैसे फर्जी बाबाओं का चेहरा बेनकाब होने के बाद भी अभी तक लोगों का ढोंगी बाबाओं के प्रति विश्वास बना हुआ है। फर्जी बाबाओं की शरण में आम आदमी ही नहीं है बड़े राजनेता भी पहुंच रहे हैं। अंधविश्वास का आलम है कि छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री राम सेवक पैकरा खुद कंबल बाबा के यहां इलाज के लिए पहुंचे।

गृहमंत्री तब जनसंपर्क यात्रा के तहत बलरामपुर जिले में पहुंचे थे जहां उन्हें कंबल बाबा के बारे में पता चला। बाबा का दावा है कि वो कंबल ओढ़ाकर किसी के कानों में मंत्र फूंक दे तो कोई भी बीमारी गायब हो जाती है। पूरे के इलाज के लिए बाबा के दरबार में पांच बार आना होगा। बाबा को लेकर जब गृहमंत्री रामसेवक से पूछा तो कहा, मैं अपने क्षेत्र के दौरे पर था। करीब पांच हजार लोग वहां पहले से मौजूद थे। मैंने भी वहां खड़े होकर देखा कि जो शख्स चल नहीं पा रहा था उसे मालिश करके बाबा ने चला दिया। मुझे ये सब चम्मकार जैसा लगा।

मुझे शुगर है इसलिए मैं भी वहां चला गया। इलाज के लिए यहां पांच बार आना होता है। तभी इलाज हो सकेगा। बाबा ने मुझे एक चम्मच शक्कर दी है। गृहमंत्री ने आगे कहा कि बाबा ने मुझे पांच बार आने के लिए कहा है। सरकारी दवा में खाता हूं, अगर इसके खाने से फायदा होता है तो गलत क्या है। बाबा का चमत्कार तो दिखता है। इसीलिए वहां इतनी भीड़ आती है। वहां गरीब लोग भी आते हैं और संपन्न परिवार के भी। यहां इलाज निशुल्क किया जाता है।

वहीं कंबल वाले बाबा का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वो कथित तौर पर विक्लांग शख्स की टांगें और हाथ पकड़कर सीधे करते हुए नजर आ रहा है। वीडियो में बाबा थप्पड़ मारकर भी महिला का इलाज करता हुआ नजर आ रहा है। वीडियो में बाबा ने बताया कि उसका असली नाम गणेश यादव है, हालांकि अब लोग कंबलवाला बाब कहकर पुकारते हैं। सालों से गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश में लोगों का इलाज करने का बाबा दावा कर रहा है। बाबा ने आगे बताया कि मंत्री जी दस साल से शुगर से पीड़ित है। अभी उन्होंने एक खुराक ली है। देखते हैं क्या इससे उनकी बीमारी ठीक होती है।

=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

E-Paper